Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बिहार में जल्द खुलेंगे 21 नए सीएनजी स्टेशन, बढ़ते CNG वाहनों को लेकर परिवहन विभाग ने लिया फैसला

पिछले कुछ दिनों से बिहार में सीएनजी गाड़ियों (cng Cars) की संख्या बढ़ती जा रही है। गाडियों की बढ़ती संख्या को देखते हुए परिवहन विभाग (Transport Department) ने अब सीएनजी स्टेशनों (CNG stations) की संख्या बढ़ाने का निर्णय लिया है।

21 new CNG stations will open in Bihar Transport Department taken decision
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

पिछले कुछ दिनों से बिहार में सीएनजी गाड़ियों (cng Cars) की संख्या बढ़ती जा रही है। गाडियों की बढ़ती संख्या को देखते हुए परिवहन विभाग (Transport Department) ने अब सीएनजी स्टेशनों (CNG stations) की संख्या बढ़ाने का निर्णय लिया है। परिवहन सचिव संजय अग्रवाल ने जानकारी देते हुए कहा कि अगले दो माह में पटना के साथ मुजफ्फरपुर, भोजपुर, जहानाबाद, औरंगाबाद, वैशाली जैसे जिलों में नए सीएनजी स्टेशन खुलेंगे, फिलहाल परिवहन विभाग ने 21 नए सीएनजी स्टेशन खोलने का फैसला लिया है।।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, वर्तमान में पटना में 12, बेगूसराय में दो, जबकि रोहतास, गया और नालंदा में एक-एक सीएनजी स्टेशन हैं। लेकिन नए स्टेशनों के खुलने के बाद राज्य में दिसंबर तक सीएनजी स्टेशनों की संख्या बढ़कर 38 तक हो जाएगी। सिर्फ राजधानी पटना की ही बात करें तो यहां बाढ़, घोसवरी, बख्तियारपुर और पंडारक में नए सीएनजी स्टेशन खोले जाएंगे। सीएनजी स्टेशन खोले जाने को लेकर चार कंपनियों के द्वारा अलग-अलग जिलों में काम चल रहा है। परिवहन सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने इसको लेकर गेल, आइओसीएल, थिंक गैस, आइओएजीपीएल सीएनजी प्रोवाइडर्स के साथ समीक्षा बैठक भी कर ली है। सचिव ने कंपनियों को निर्देश दिया है कि प्रमुख शहरों में नए सीएनजी स्टेशन खोलने के काम में तेजी लाएं। सरकार जल्द से जल्द इन सीएनजी स्टेशनों को खोलना चाहयती है।

आपको बता दें कि प्रदेश के इन स्थानों पर नए सीएनजी स्टेशन खोले जाएंगे। रोहतास, समस्तीपुर में तीन-तीन, जहानाबाद, भोजपुर, वैशाली व बेगूसराय में दो-दो, मुजफ्फरपुर, औरंगाबाद, कैमूर और सारण में एक-एक सीएनजी स्टेशन खुलेंगे। जाहिर है सीएनजी स्टेशनों की संख्या बढ़ेगी तो सीएनजी युक्त गाड़ियों की परेशानी कम होगी और स्टेशनों पर लम्बी कतारें भी नहीं लगेगी। बता दें कि सीएनजी स्टेशन कम होने के कारण वाहन चालकों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। वहीं परिवहन विभाग का कहना है कि अब ये वाहन चालकों की ये परेशानी जल्द ही खत्म कर दी जाएगी।

Next Story