Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

छत्तीसगढ़ में कोरोना का एक साल पूरा, मूणत बोले-सरकार के पास ठोस कार्ययोजना का अभाव

छत्तीसगढ़ में कोरोना को एक साल पूरा होते ही भाजपा और कांग्रेस के बीच जुबानी जंग छिड़ गई है। भारतीय जनता पार्टी ने राज्य सरकार को कोरोना की रोकथाम के प्रति अगंभीर बताया है, तो वहीं सत्ताधारी कांग्रेस का कहना है कि सरकार मौतों का आंकड़ा रोकने में कामयाब रही है। रायपुर में न तो लॉकडाउन की जरूरत है, न ही नाईट कर्फ्यू की। पढ़िए पूरी खबर-

छत्तीसगढ़ में कोरोना का एक साल पूरा, मूणत बोले-सरकार के पास ठोस कार्ययोजना का अभाव
X

रायपुर। छत्तीसगढ़ में ठीक एक साल पहले यानी 18 मार्च 2020 को कोरोना के पहले मामले की पहचान की गई थी। एक साल पूरा होने पर एक बयान देते हुए छत्तीसगढ़ के पूर्व मंत्री राजेश मूणत ने कहा है कि छत्तीसगढ़ की मौजूदा कांग्रेस कोरोना की रोकथाम के प्रति गंभीर नही है। सरकार के पास इसे लेकर कोई ठोस कार्ययोजना नहीं है।

पूर्व मंत्री मूणत ने कहा, कि दूसरे दौर के कोरोना के इस माहौल में रायपुर में क्रिकेट टूर्नामेंट आयोजित कराके कोरोना के प्रति लापरवाही की जा रही है।

मूणत के सवालों का जवाब देते हुए प्रदेश के कृषि मंत्री व कांग्रेस के दिग्गज नेता रविंद्र चौबे ने कहा है कि छत्तीसगढ़ सरकार कोरोना के प्रति शुरू से गंभीर रही है। छत्तीसगढ़ में मौतों का आंकड़ा रोकने में सरकार सफल रही है। दूसरे दौर से भी निबट लिया जाएगा। उन्होंने कोविड प्रोटोकॉल के पालन को जरूरी बताया है। उन्होंने रायपुर में लॉकडाउन अथवा नाईट कर्फ्यू की आवश्यकता को खारिज करते हुए कहा भाजपा के नेता कोरोना वैक्सीन लगवाने के नाम से ही सही, लेकिन लिए घर से तो निकले।

और पढ़ें
Next Story