Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सुकमा कोरोना मुक्ति की ओर, रायपुर-दुर्ग ने बढ़ाई टेंशन, इसलिए केंद्र ने माना संवेदनशील

एक ओर दस दिनों से एक भी एक्टिव केस नहीं होने की वजह से सुकमा-बीजापुर कोरोना मुक्त घोषित होने की ओर आगे बढ़ रहे हैं, वहीं रायपुर और दुर्ग में लगातार सामने आ रहे मामले ने कोरोना वापसी की आशंका के साथ टेंशन बढ़ा दी है। केंद्र सरकार ने पिछले कई दिनों से बढ़ रहे केस को देखते हुए छत्तीसगढ़ में कोरोना की 13 प्रतिशत उछाल के साथ इसे संवेदनशील राज्य माना है।

corona
X
corona

रायपुर. एक ओर दस दिनों से एक भी एक्टिव केस नहीं होने की वजह से सुकमा-बीजापुर कोरोना मुक्त घोषित होने की ओर आगे बढ़ रहे हैं, वहीं रायपुर और दुर्ग में लगातार सामने आ रहे मामले ने कोरोना वापसी की आशंका के साथ टेंशन बढ़ा दी है। केंद्र सरकार ने पिछले कई दिनों से बढ़ रहे केस को देखते हुए छत्तीसगढ़ में कोरोना की 13 प्रतिशत उछाल के साथ इसे संवेदनशील राज्य माना है।

प्रदेश में जनवरी के कोरोना संक्रमण के केस लगातार कम हो रहे हैं और फरवरी में भी यह दौर जारी है। स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों को मानें, तो वर्तमान में छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण की औसत दर डेढ़ से दो फीसदी है, मगर पिछले दस दिनों के आंकड़े पर गौर किया जाए, तो रोज सामने आने वाले केस की संख्या में वृद्धि हो रही है। दस दिन पहले प्रदेश में 200 से 250 के बीच कोरोना संक्रमित मिल रहे थे, मगर अभी इनकी संख्या 250 से 275 के बीच हो गई है। यानी पॉजिटिव केस में बढ़ोतरी हुई है। यहां रिकव्हरी रेट भी बेहतर होने की वजह से एक्टिव केस तीन हजार के आसपास हैं। मौत के आंकड़े भी कम हुए हैं, मगर रोजाना सामने आने वाले केस जरूर बढ़े हैं।

पिछले कुछ समय से प्रदेश में कोरोना काबू में होने की बात सामने आ रही थी। सुकमा और बीजापुर को सरकारी तौर पर कोरोना मुक्त घोषित करने के लिए रेंडम जांच की प्रक्रिया पूरी होने का इंतजार किया जा रहा है। दूसरी ओर रायपुर-दुर्ग जिले के साथ बिलासपुर, राजनांदगांव तथा रायगढ़ में भी कोरोना का वायरस बड़ी संख्या में केस के साथ अपनी सक्रियता सामने लाता है। केंद्र सरकार ने एमपी, पंजाब, जम्मू-कश्मीर, छत्तीसगढ़, हरियाणा में केस बढ़ने की वजह से इसे संवेदनशील माना है और यहां अतिरिक्त सावधानी बरतने के निर्देश दिए हैं। सीमाओं पर आने वालों की जांच के साथ कोरोना संक्रमितों की पहचान के लिए ज्यादा से ज्यादा सैंपल लेने पर जोर दिया है।

रायपुर-दुर्ग टेंशन वाला

कोरोना के मामले में रायपुर जिला अभी भी संवेदनशील बना हुआ है। यहां रोजाना पचास से सौ के बीच केस सामने आ रहे हैं और एक्टिव केस भी आठ सौ से ऊपर है। दुर्ग का भी कुछ ऐसा ही हाल है, यहां भी मामले पचाच से 75 के बीच सामने आ रहे हैं और एक्टिव केस नौ सौ से ऊपर हैं।

मौत और केस बढ़े

स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के मुताबिक वर्तमान में प्रदेश में एक्टिव मरीजों की संख्या तीन हजार के समीप है। पिछले दो-तीन दिनों से नए केस की तुलना में रिक्वहरी संख्या में कमी है। प्रदेश में रोजाना कोरोना से होने वाली मौत की संख्या भी औसतन चार से पांच जा रही है, जिसे भी चिंता का विषय माना गया है।

मामूली बढ़ोतरी

छत्तीसगढ़ में रोजाना ढाई से तीन सौ केस सामने आ रहे हैं। संक्रमण दर में मामूली वृद्धि हुई है। प्रदेश में कोरोना अभी भी सक्रिय है, इसलिए सा‌वधानी बरतना जरूरी है।

- डा. सुभाष पांडेय, संयुक्त संचालक एवं प्रवक्ता स्वास्थ्य विभाग

और पढ़ें
Next Story