Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राजस्थान में बढ़ती आपराधिक घटनाओं को लेकर राजे ने गहलोत सरकार को घेरा, बोलीं- प्रदेश में कोई कानून व्यवस्था नहीं

राजस्थान में पिछले कुछ दिनों से आपराधिक मामलों में वृद्धि देखी जा रही है। प्रदेश में बलात्कार से लेकर आपराधिक घटनाओं ने सरकार की परेशानी बढ़ा रखी है। इसको लेकर राज्य सरकार को विपक्ष के आरोप-प्रत्यारोप भी झेलने पड़ रहे हैं।

राजस्थान में बढ़ती आपराधिक घटनाओं को लेकर राजे ने गहलोत सरकार को घेरा, बोलीं- प्रदेश में कोई कानून व्यवस्था नहीं
X

वसुंधरा राजे

जयपुर। राजस्थान में पिछले कुछ दिनों से आपराधिक मामलों में वृद्धि देखी जा रही है। प्रदेश में बलात्कार से लेकर आपराधिक घटनाओं ने सरकार की परेशानी बढ़ा रखी है। इसको लेकर राज्य सरकार को विपक्ष के आरोप-प्रत्यारोप भी झेलने पड़ रहे हैं। वहीं भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने राजस्थान की कांग्रेस सरकार पर कानून व्यवस्था को बनाए रखने में विफल होने का आरोप लगाते हुए कहा है कि प्रदेश में हर रोज हो रही बलात्कार सहित आपराधिक घटनाओं ने पूरे प्रदेश को झकझोर दिया है। राजे ने सोशल मीडिया के जरिए कहा कि जालौर जिले के भीनमाल में दो नाबालिग लड़कियों के साथ किए गए सामूहिक बलात्कार ने यह साबित कर दिया है कि राजस्थान में न कोई कानून-व्यवस्था और न ही कोई सरकार दिखाई देती हैं।

विधानसभा में उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र सिंह राठौड़ ने भी राज्य में कानून व्यवस्था बिगड़ जाने का आरोप लगाते हुए कहा कि बेखौफ बदमाशों ने अजमेर जिले के किशनगढ़ में भागचंद चोटिया की दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या कर दी, जिससे एक बार फिर राज्य की कानून व्यवस्था का सच सामने आ गया है। प्रदेश में चहुंओर डर का वातावरण है, अपराधियों में भय बिल्कुल भी नहीं है। उन्होंने कहा कि गहलोत सरकार अपराधियों के हाथों की कठपुतली बन गई है। उधर राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (रालोपा) के संयोजक एवं नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल ने राज्य सरकार से भागचंद चोटिया के हमलावरों एवं षडयंत्रकर्ताओं को शीघ्र गिरफ्तार करने की मांग की हैं। बेनीवाल ने कहा कि इससे पहले की कांग्रेस सरकार के समय में विधायक रहे नाथूराम सिनोदिया के पुत्र भंवर सिनोदिया की हत्या के मामले में भागचंद चोटिया मुख्य गवाह थे। इस मामले में तुरंत संज्ञान लेकर हमलावरों को गिरफ्तार किया जाना चाहिए।

Next Story