Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पांडू पिंडारा और ढूंढू तीर्थ का होगा जिर्णोद्धार

ईक्कस तीर्थ के निर्माण को लेकर 44 लाख का टेंडर जारी कर वर्क अलॉट कर दिया है, पिंडारा तीर्थ के सुधारीकरण पर भी 60 लाख रुपये खर्च किए जाएंगे।

पांडू पिंडारा और ढूंढू तीर्थ का होगा जिर्णोद्धार
X

पांडू पिंडारा तीर्थ का फाइल फोटो।

हरिभूमि न्यूज. जींद

मुख्यमंत्री द्वारा की गई घोषणा के अनुसार कुरूक्षेत्र की 52 कोस की परिधि में आने वाले पांडू पिंडारा तीर्थ और गांव ईक्कस के ढूंढू तीर्थ का लगभग सवा करोड़ रुपए की लागत से जिर्णोद्धार किया जाएगा। इसके तहत ईक्कस तीर्थ के निर्माण को लेकर 44 लाख रुपये का टेंडर जारी कर वर्क अलॉट कर दिया गया है तो वहीं पिंडारा तीर्थ के सुधारीकरण पर भी 60 लाख रुपये खर्च किए जाएंगे। हालांकि ईक्कस तीर्थ पर 1.27 करोड़ रुपये खर्च किए जाने हैं लेकिन अभी तक विभाग के पास 44 लाख रुपये ही आए थे, इसलिए फिलहाल इतने पैसों से ही सुधारीकरण किया जाएगा।

गौरतलब है कि दो वर्ष पहले मुख्यमंत्री ने जींद का दौरा किया था और कुरुक्षेत्र की 48 कोस की परिधि में आने वाले 51 तीथोंर् के जिर्णोद्धार की घोषणा की थी। इनमें जींद के पांडू पिंडारा तीर्थ, ईक्कस के ढूंढू तीर्थ और बरसोला गांव स्थित वंशमूलक तीर्थ भी शामिल थे। कुरुक्षेत्र विकास बोर्ड द्वारा इनका जिर्णोद्धार किया जाना था। बरसोला के वंशमूलक तीर्थ का जिर्णोद्धार का काम इन दिनों चल रहा है तो ईक्कस तीर्थ के जिर्णोद्धार के लिए लोक निर्माण विभाग द्वारा टेंडर जारी कर वर्क अलॉट कर दिया गया है।

महिला और पुरुषों के लिए बनेंगे अलग-अलग घाट

44 लाख रुपये से ईक्कस तीर्थ पर महिला और पुरुषों के स्नान के लिए अलग-अलग घाट बनाए जाएंगें। यहां रास्ते को पक्का किया जाएगा तो वहीं चेंजिंग रूम भी बनाए जाएंगे। पार्क को विकसित किया जाएगा और लाइटों की व्यवस्था रहेगी। पाकिंर्ग की व्यवस्था की जाएगी। इसी तरह पिंडारा तीर्थ पर भी सुधारीकरण किया जाएगा।

जल्द शुरू होगा काम : नवनीत नैन

लोक निर्माण विभाग के एक्सईएन नवनीत नैन ने बताया कि पिंडारा तीर्थ पर काम शुरू करने से पहले विधायक डा. कृष्ण मिड्ढा से बैठक की जाएगी। उसके बाद ही क्या-क्या काम होने हैं, यह फाइनल किया जाएगा। विधायक चाहते थे कि घाट के बीचोंबीच लंबी सीढ़ियां बनेंए इस पर भी विचार किया जाएगा। ईक्कस तीर्थ के जिर्णोद्धार का काम जल्द शुरू कर दिया जाएगा।


Next Story