Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पुरुष के बराबर काम नहीं कर सकती, इसलिए महिला ग्राम पंचायत सचिव को हटाने का आदेश...!

पंचायत मंत्री सिंहदेव के जांच कर कार्रवाई के आदेश, सीईओ ने रद्द किया तबादला

पुरुष के बराबर काम नहीं कर सकती, इसलिए महिला ग्राम पंचायत सचिव को हटाने का आदेश...!
X

रायपुर. छत्तीसगढ़ के बालोद जिले में एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसमें ग्राम पंचायत सचिव को इसलिए हटाने का आदेश डौंडीलोहारा जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने जारी किया कि वह महिला है और पुरुषों जितना कार्य नहीं कर सकती। शनिवार को यह मामला पंचायत मंत्री टीएस सिंहदेव के संज्ञान में लाया गया। उन्होंने मामले की जांच कर जिम्मेदार लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के आदेश दिए। मंत्री द्वारा अधिकारियों को दिए गए निर्देश के बाद डौंडीलोहारा जनपद पंचायत के सीईआ ने आनन-फानन में एक साल पहले के आदेश को शनिवार शाम को ही निरस्त करने का आदेश जारी किया।

एक साल पहले बालोद की डौंडीलोहारा जनपद पंचायत में भेंडी (लो.) गांव के सरपंच ने काम अधिक होने की वजह से वहां पदस्थ महिला ग्राम पंचायत सचिव हेमलता मानिकपुरी की जगह किसी पुरुष सचिव को पदस्थ करने का प्रस्ताव दिया। जनपद पंचायत डौंडी ने पंचायत सचिव को हटाने की मांग करने वाले सरपंच के प्रस्ताव में जिला पंचायत को अपनी सिफारिश भेज दी। जनपद पंचायत सीईओ ने पंचायत सचिव हेमलता मानिकपुरी को भेंडी (लो.) से हटाकर झिटिया भेजने और झिटिया के सचिव रामेश्वर को भेंडी (लो.) में पदस्थ करने का प्रस्ताव जिला पंचायत बालोद को भेजा। शनिवार को यह मामला पंचायत मंत्री टीएस सिंहदेव के पास पहुंचा। उन्होंने मामले में कहा, यह आदेश अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण एवं आपत्तिजनक है। इस विषय में संज्ञान लेकर हमने तुरंत इसकी जांच कराने के लिए विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया है। इस प्रकार की विचारधारा पूर्णतः अस्वीकार्य है। जिम्मेदार लोगों के खिलाफ सख्त और उचित कार्रवाई की जाएगी।

सोशल मीडिया पर हुआ ट्रेंड

ट्वीट के जरिए यह मामला सोशल मीडिया पर ट्रेंड करने लगा। कई लोगों ने इसी बहाने छत्तीसगढ़ सरकार के महिला सशक्तिकरण को लेकर सवाल उठाए। मामले में राज्यसभा सांसद सरोज पांडेय ने ट्वीट कर कहा, महिला सशक्तिकरण में छत्तीसगढ़ सरकार का नया कीर्तिमान। प्रियंका गांधी से निवेदन है कि भूपेश बघेल को उचित सम्मान दिया जाए।

Next Story