Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पीसीसी चीफ बोले- पेगासस कंपनी के लोग 2017 में छत्तीसगढ़ आये थे, रमन सरकार व पुलिस के साथ हुई थी चर्चा

कांग्रेस ने पूर्ववर्ती बीजेपी सरकार पर बड़ा आरोप लगाया है. पीसीसी चीफ मोहन मरकाम ने कहा कि छत्तीसगढ़ में पेगासस कंपनी के लोग 2017 को आए थे. तत्कालीन रमन सरकार और पुलिस के साथ उनकी चर्चा हुई थी. इसकी जानकारी एक अखबार में छपी थी. जिस आधार पर भूपेश सरकार के द्वारा नवंबर 2019 में एक समिति गठित की थी. समिति ने इस मामले में जांच की. समिति ने जाँच पाया कि पेगासस के साथ हुई बैठक की जानकारी से जुड़े दस्तावेज जला दिए गए.

मरकाम बोले- केंद्र कर रही राजनीतिक दुरूपयोग, अजय ने कहा- झूठ की राजनीति कर रही कांग्रेस
X

मोहन मरकाम (फाइल फोटो)

रायपुर. कांग्रेस ने पूर्ववर्ती बीजेपी सरकार पर बड़ा आरोप लगाया है. पीसीसी चीफ मोहन मरकाम ने कहा कि छत्तीसगढ़ में पेगासस कंपनी के लोग 2017 को आए थे. तत्कालीन रमन सरकार और पुलिस के साथ उनकी चर्चा हुई थी. इसकी जानकारी एक अखबार में छपी थी. जिस आधार पर भूपेश सरकार के द्वारा नवंबर 2019 में एक समिति गठित की थी. समिति ने इस मामले में जांच की. समिति ने जाँच पाया कि पेगासस के साथ हुई बैठक की जानकारी से जुड़े दस्तावेज जला दिए गए.

कांग्रेस ने पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह से सवाल करते हुए कहा कि रमन सिंह बताएं कि कंपनी के लोगों के साथ उनकी बैठक हुई थी या नहीं ? भाजपा ने कुछ गलत नहीं किया तो उसका विवरण उसे सार्वजनिक करना चाहिए. कांग्रेस मांग करती है कि छत्तीसगढ़ सरकार इस मामले में कड़ी कार्रवाई करे. कर्नाटक में कांग्रेस सरकार गिराने के लिए पेगासस का दुरुपयोग किया गया. 2019 लोकसभा चुनाव से पहले पेगासस का दुरुपयोग हुआ.

पीसीसी चीफ मोहन मरकाम ने पीएम मोदी से सवाल पूछते हुए कहा कि नेताओं,पत्रकारों की जासूसी करना क्या देशद्रोह नहीं है? मोदी सरकार ने इजरायली स्पाइवेयर कंपनी में कितने करोड़ खर्च किये? मोदी सरकार ने सॉफ्टवेयर कब खरीदा?

Next Story