Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जींद में घर की छत गिरने से डेढ वर्षीय बच्चे की मौत, मां पीजीआई रेफर

डेढ साल के बच्चे के साथ अपने मायके में आई हुई थी महिला, लोगों ने मलबे के नीचे दबे मां-बेटे को बाहर निकाल अस्पताल पहुंचाया था।

जींद में घर की छत गिरने से डेढ वर्षीय बच्चे की मौत, मां पीजीआई रेफर
X

 आयुष का फाइल फोटो और घरी की छत गिरी हुई।

हरिभूमि न्यूज. उचाना

वार्ड नंबर एक में बीती देर रात मकान की छत गिरने से मासूम की मौत हो गई। जबकि उसकी मां गंभीर रूप से घायल हो गई। जिसे पीजीआई रोहतक रेफर किया गया है। घायल महिला अपने बेटे के साथ मायके में आई हुई थी। उचाना थाना पुलिस मामले की जांच कर रही है।

वार्ड एक निवासी जगदीश की बेटी पूजा अपने डेढ साल के बेटे आयुष के साथ अपने मायके उचाना में आई हुई थी। देर रात मकान की छत अचानक गिर गई। जिसमें मां-बेटे दोनों मलबे के नीचे दब गए। छत गिरने की आवाज सुनकर परिवार के सदस्य तथा पड़ोसी मौके पर पहुंच गए और मलबे के नीचे दबे मां-बेटे को बाहर निकाल अस्पताल पहुंचाया। जहां चिकित्सकों ने आयुष को मृत घोषित कर दिया। जबकि पूजा को रोहतक पीजाआई रेफर किया गया। मृतक मासूम आयुष के मामा नवीन ने बताया कि पूजा अपने मायका उचाना अपने डेढ़ साल की उम्र के बेटे आयुष के साथ आई हुई है। हर रोज की तरह वो मकान के पहले कमरे में सोई हुई थी।

अचानक रात को मकान की छत गिर गई। नवीन ने बताया कि छत गिरने के साथ आयुष, पूजा दोनों नीचे दब गए। यहां से दोनों को निकाल कर नागरिक अस्पताल उचाना में लेकर गए। यहां डॉक्टरों ने आयुष को मृत घोषित कर दिया तो पूजा को गंभीर रूप से घायल होने पर रोहतक पीजीआई रेफर कर दिया।

Next Story