Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

तेजस्वी यादव को प्रयोगशाला में ही जांच की पाठशाला समझ में आएगी: मंगल पाण्डेय

बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पाण्डेय ने कहा कि तेजस्वी यादव जानकारी तो रखते नहीं, लेकिन गलत बयान बाजी करके जनता को दिग्भ्रमित कर रहे हैं। वहीं उन्होंने कहा कि राजद के नेता तेजस्वी यादव को प्रयोगशाला में ही कोरोना वायरस संबंधी जांच की पाठशाला समझ में आएगी।

tejaswi yadav will understand the school of investigation in the laboratory itself mangal pandey
X
मंगल पाण्डेय ने तेजस्वी यादव पर साधा निशाना

बिहार के स्वास्थ्य मंत्री एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता मंगल पाण्डेय ने शुक्रवार को एक के बाद एक कई ट्वीट कर राजद नेता तेजस्वी यादव को आड़े हाथ लिया है। याद रहे कल तेजस्वी यादव ने सूबे में की जा रही कोरोना जांच की प्रणालियों को लेकर सवाल उठाया था। साथ ही तेजस्वी यादव ने कोरोना के संबंध में सीएम नीतीश कुमार व स्वास्थ्य मंत्री मंगल पाण्डेय के पास अलग-अलग जानकारियां होने का दावा किया था।

मंगल पाण्डेय ने कहा कि बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव को ज्ञानवर्द्धन करना चाहिए। उन्होंने तेजस्वी को ज्ञान देते हुए कहा कि आईसीएमआर ने यह बताया है कि रैपिड एंटीजेन टेस्ट किट में यदि किसी मरीज की जांच रिपोर्ट संक्रमित आती है, तो उसमें आरटीपीसीआर के जांच की आवश्यकता नहीं है। उसे पूर्णतः कोरोना संक्रमित मरीज माना जाता है। उसी तरह ट्रू नेट मशीन में यदि किसी की जांच रिपोर्ट निगेटिव आती है तो उस व्यक्ति को पूर्णतः निगेटिव मरीज माना जाता है।

तेजस्वी यादव गलत बयान बाजी नहीं आ रहे हैं बाज: मंगल पाण्डेय

मंगल पाण्डेय ने कहा कि नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव गलत बयानबाजी से बाज नहीं आ रहे हैं। जानकारी तो रखते नहीं, लेकिन नित्य दिन वे नया-नया शिगूफा छोड़ सरकार के काम-काज पर उंगली उठा राज्य की जनता को दिग्भ्रमित कर रहे हैं। नेता प्रतिपक्ष को जांच की प्रयोगशाला में ही जांच की पाठशाला समझ में आएगी।



सूबे में कोरोना जांच का आंकड़ा 1 लाख 21 हज़ार को पार कर गया

बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पाण्डेय ने बताया कि बिहार में पिछले 24 घंटे में 2800 मरीज स्वस्थ हुए हैं। उन्होंने कहा कि सूबे में अब कुल स्वस्थ मरीजों का आंकड़ा 65,307 पर पंहुच गया है। वर्तमान में राज्य में कुल एक्टिव मरीज 32,562 हैं। वहीं उन्होंने कहा कि बिहार में पिछले 24 घंटे में आज तक का सर्वाधिक 1 लाख 21 हज़ार 320 जांच किए गए। बिहार में अब तक कुल 14 लाख 98 हज़ार 752 जांच किये जा चुके हैं।




Next Story