Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

महिलाएं कह रही हैं हमें गुंडों से बचाओ... पुलिस कह रही महिलाएं साजिश में मोहरा बन रहीं.. क्या है हकीकत!

दुर्ग में शहर की महिलाएं पुलिस से गुहार लगाकर कह रही हैं कि वे सुरक्षित नहीं हैं। लेकिन पुलिस कह रही है कि महिलाएं किसी की रंजिश का मोहरा बन रही हैं। क्या है हकीकत, और क्यों परेशान हैं दुर्ग में महिलाएं, पढ़िए...

महिलाएं कह रही हैं हमें गुंडों से बचाओ... पुलिस कह रही महिलाएं साजिश में मोहरा बन रहीं.. क्या है हकीकत!
X

दुर्ग। गुंडों से परेशान महिलाओं की सुनवाई थाने में भी नहीं हो रही है। इससे परेशान होकर 10 से ज्यादा महिलाएं शिकायत के लिए मंगलवार शाम एएसपी सिटी संजय ध्रुव के पास शिकायत करने के लिए पहुंची। उस समय एएसपी एक मर्डर मामले का खुलासा कर रहे थे। महिलाओं ने कहा वह अपने ही घर और मोहल्ले में सुरक्षित नहीं हैं। मोहल्ले का एक गुंडा हसिया लेकर उन्हें मारने के लिए दौड़ाता है। एक बार तो वार्ड पार्षद की मदद से एक आरोपी को पकड़ कर सुपेला थाने लाया गया, लेकिन उसे वहां से 24 घंटे बाद छोड़ दिया गया है।

सूचना मिली है कि, सुपेला थाने के पांच रास्ता निवासी मितानिन शंकुतला साहू मोहल्ले की करीब 12 महिलाओं के साथ मंगलवार दोपहर 3.30 बजे के करीब कंट्रोल रूम पहुंची थी। वहां उन्होंने एएसपी सिटी संजय ध्रुव से मुलाकात की। उन्होंने बताया कि मोहल्ले उत्तम सोनवानी ने उनका जीना दुश्वार कर दिया है। वह शराब पीकर उनसे गाली गलौच करता है और घरों के सामने खड़ी गाड़ियों में तोड़फोड़ करता है। मना करने पर वह उनके साथ मारपीट पर उतारू हो जाता है। इतना ही नहीं उसने मितानिन मोतिन साहू के पुत्र रंजन साहू पर हसिया से वार भी किया है। वह मोहल्ले की महिलाओं को जान से मारने की धमकी देता है। एक बार उसे वार्ड पार्षद की मदद से पकड़कर सुपेला थाना पहुंचाया गया। वहां पुलिस ने कार्रवाई करने के बजाय आरोपी को 24 घंटे के भीतर छोड़ दिया। अब वह फिर से मोहल्ले में खूले साड़ की तरह घूम रहा है और उन्हें जान से मारने की धमकी भी दे रहा है।

रोजी- रोटी हुई बंद

सुपेला थाने क्षेत्र में गुंडागर्दी से परेशान एक अन्य पीड़ित संभाग नए आईजी ओपी पाल के पास पहुंच गया। कोसानगर निवासी जितेन्द्र शर्मा ने दुर्ग रेंज के आईजी को लिखित शिकायत कर न्याय की गुहार लगाया कि गुंडों के आतंक ने उसका रोजगार छीन लिया है। उसने बताया कि कोसानगर मोहल्ले में रहने वाले दिनेश एस साहू और कमल नेवारे ने पहले तो उसके साथ गाली गलौच कर घर में घुसकर मारपीट की। अब कोसानगर में घुसने से जान से मार देने की धमकी दे रहा है। आरोपी पहले भी उसे घर में घुसकर बुरी तरह मार चुका है, इसलिए वह उसकी धमकी से काफी डरा हुआ है। उसके डर से वह अपनी आटा चक्की की दुकान तक नहीं खोल पा रहा।

सुरक्षा में भेजे जाएगे सिपाही

एएसपी का कहना है कि छठ पर्व के बाद मितानिनों की सुरक्षा के लिए हर दिन एक सिपाही ड्यूटी लगाई जाएगी। यदि ऐसा है तो आरोपी के खिलाफ कार्रवाई होगी। इसके लिए टीआई को निर्देशित किया गया है। पुलिस के सूचना के गुड़े पांच रास्ता वाले मामले में महिलाओं की आड़ में अपनी पुरानी रंजिश निकाल रहा है। पहले भी दुर्गा विसर्जन के दौरान दो गुटों में काफी झगड़ा हुआ था। तब हमने दोनो के खिलाफ अपराध दर्ज कर कार्रवाई की थी। यदि महिलाओं के साथ ऐसा हुआ तो दोबारा आरोपी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। दिनेश साहू वाले मामले में भी कार्रवाई की जाएगी।

Next Story