Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

डॉक्टरों की लापरवाही के चलते मजदूर की बेटी की मौत, घंटो तड़पती रही जमीन पर इलाज के लिए

डॉक्टरों की लापरवाही का खामियाजा गरीब परिवार की युवती को अपनी जान देकर चुकाना पड़ा, कैलारस अस्पताल में तैनात डॉक्टर की लापरवाही का नजारा वीडियो में साफ देखा जा सकता है। पढ़िए पूरी खबर-

डॉक्टरों की लापरवाही के चलते मजदूर की बेटी की मौत, घंटो तड़पती रही जमीन पर इलाज के लिए
X

मुरैना। मध्यप्रदेश के मुरैना में कैलारस अस्पताल में तैनात डॉक्टर की लापरवाही का मामला सामने आया है। डॉक्टरों की लापरवाही का खामियाजा गरीब परिवार की युवती को अपनी जान देकर चुकाना पड़ा। युवती इलाज के लिए एक घंटे तक जमीन में पड़ी रही लेकिन उसे इलाज नसीब नहीं हुआ। कैलारस अस्पताल में तैनात डॉक्टर की लापरवाही का नजारा वीडियो में साफ देखा जा सकता है।

कैलारस सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में आज किसी जहरीले जीव के द्वारा काटने पर युवती को इलाज के लिए लाया गया। लेकिन उसे 1 घंटे तक इलाज नहीं मिला और वह जमीन पर पड़ी रही लेकिन यहां पदस्थ डॉक्टरों ने इलाज करना मुनासिब नहीं समझा। युवती दर्द से जमीन पर पड़ी कराहती रही, लेकिन यहां न तो कोई नर्स मौजूद थी और ना ही डॉक्टर उनको ठीक से मॉनिटर कर रहे थे। यहां तक कि एंबुलेंस भी उपलब्ध नहीं थी, जिससे उपचार के लिए आई महिला को जिला अस्पताल रेफर किया जा सके। बाद में परिजनों ने ₹2,000 रूपये देकर एंबुलेंस बुक कराई जो मरीज को जिला अस्पताल के लिए लेकर गए।

मरीज के पिता गोपाल चिमनी भट्टा हरलालपुरा आंतरी में बतौर मजदूर काम करते हैं। दतिया जिले के सेवड़ा के गोपाल ने बताया कि उनकी बेटी तबीयत संभवत किसी जीव-जंतु द्वारा काटे जाने के बाद सांस लेने की तकलीफ के चलते कैलारस अस्पताल में लेकर आए। महिला को अस्पताल में लाये भी एक घंटा हो गया लेकिन इलाज करने के लिए वहां डॉक्टर तो दूर लोई नर्स भी मौजूद नहीं थी, जब काफी देर महिला तड़पती रही और इस बात की जानकारी मीडिया कर्मियों को लगी। तब आनन-फानन में प्राइवेट एम्बुलेंस बुलाकर मरीज को मुरैना के लिए रेफर किया गया, लेकिन युवती ने दम तोड़ दिया।

Next Story