Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कुछ दिनों की छुट्टी पर हिमाचल आया एनआरआई परिवार छह महीने बाद चीन वापस लौटा

हिमाचल में कुछ दिनों की छुट‍्टी पर आया एनआरआई परिवार अब चीन वापस लौट गया है। छह महीने पहले वह दस बारह दिन घुमने के लिए हिमालच आए थे। लेकिन कोराेना के डर से वे यहां रूकने पर मजबूर हो गए।

कुछ दिनों की छुट्टी पर हिमाचल आया एनआरआई परिवार छह महीने बाद चीन वापस लौटा
X
चीन वापस जाती भारत आई एनआरआई फैमली।

हिमाचल में कुछ दिनों की छुट‍्टी पर आया एनआरआई परिवार अब चीन वापस लौट गया है। छह महीने पहले वह दस बारह दिन घुमने के लिए हिमालच आए थे। लेकिन कोराेना के डर से वे यहां रूकने पर मजबूर हो गए। अब वे छह महीने 12 दिन यहां रुकने के बाद नलिन शर्मा, पत्नी डिंपल शर्मा और बेटा अक्षत शर्मा वापस वापस चीन चले गए। यह जानकारी नलिन शर्मा के भाई उमेश शर्मा ने दी। 12 दिन की छुट्टियों पर घर आए एनआरआई परिवार का लॉकडाउन के चलते छह महीने 12 दिन बाद वापस जाना संभव हो पाया है। जानकारी के अनुसार धर्मपुर उपमंडल के तहत आने वाली ग्राम पंचायत सज्जाओपिपलू के कौहण गांव के निवासी एनआरआई नलिन शर्मा चीन की एक कंपनी के बतौर जनरल मैनेजर कार्यरत हैं। उनकी पत्नी डिंपल शर्मा और बेटा अक्षत भी उनके साथ चीन में ही रहते हैं। पत्नी डिंपल शर्मा भी वहां इसी कंपनी में काम करती हैं। बीते 15 वर्षों से यह परिवार चीन के जिग्यांसू राज्य के छांगजो शहर में रह रहा है।

हर वर्ष वार्षिक छुट्टियों के दौरान यह परिवार अपने पैतृक घर आता है। इस बार भी यह परिवार 24 जनवरी को यहां आया और आठ फरवरी को उन्होंने वापस जाना था, लेकिन कोरोना वायरस ने वापसी की राह रोक दी। नलिन शर्मा बार-बार चीन वापस जाने का प्रयास करते रहे, लेकिन हवाई सेवाएं बाधित होने के कारण वह नहीं जा सके। अब वंदे भारत मिशन के तहत इस परिवार का वापस चीन जाना संभव हो पाया है। 28 जुलाई को यह परिवार अपने गांव से दिल्ली रवाना हुआ और वहां पर सारी औपचारिकताएं पूरी करने के बाद पांच अगस्त की रात को दिल्ली से चीन के लिए उड़ान भरी। नलिन शर्मा के भाई उमेश शर्मा ने बताया कि उनका भाइ, भाभी और भतीजा छह अगस्त को चीन के ग्वांग्जो शहर पहुंच गए हैं। वहां पर उन्हें 14 दिनों के लिए क्वारंटाइन में रखा गया है। उसके बाद वे अपने कार्यस्थल पर जाकर कार्य शुरू करेंगे। वह रोजाना अपने भाई से फोन पर बात करके उनका हालचाल जान रहे हैं।

Next Story