Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

यमुनानगर में दिनदहाड़े बीड़ी कारोबारी के मुंशी से बदमाशों ने रुपयों से भरा थैला छीना

मंगलवार दोपहर साढे़ 12 बजे वह थैले में सात लाख रुपये लेकर साइकिल पर सवार होकर संत निरंकारी सत्संग भवन के नजदीक स्थित एचडीएफसी बैंक में उन्हें जमा करवाने के लिए गया था।

यमुनानगर में दिनदहाड़े बीड़ी कारोबारी के मुंशी से बदमाशों ने रुपयों से भरा थैला छीना
X

यमुनानगर में पैसों से भरा थैला छीनने की घटना के बारे में पुलिस को बताता हुआ पीड़ित मुंशी।

हरिभूमि न्यूज : यमुनानगर

बैंक में पैसे जमा करवाने जा रहे बीड़ी कारोबारी के मुंशी से मंगलवार दोपहर मोटरसाइकिल सवार दो नकाबपोश बदमाशों ने रुपयों से भरा थैला छीन लिया और मौके से फरार हो गए। थैले में सात लाख रुपये थे। घटना की सूचना मिलते ही शहर यमुनानगर थाना प्रभारी व सीआइए-टू प्रभारी मौके पर पहुंचे। इस दौरान पुलिस ने शहर की नाकाबंदी करके आरोपितों की तलाश की, मगर उनके बारे में कुछ पता नहीं चला। बात में पुलिस ने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ झपटमारी के आरोप में मामला दर्ज कर लिया।

जानकारी के अनुसार शहर के रामनगर निवासी संत प्रकाश पिछले 10 साल से बीड़ी कारोबारी रमेश कुमार ब्रदर्स एजेंसी पर मुंशी का काम कर रहा है। मंगलवार दोपहर साढे़ 12 बजे वह थैले में सात लाख रुपये लेकर साइकिल पर सवार होकर संत निरंकारी सत्संग भवन के नजदीक स्थित एचडीएफसी बैंक में उन्हें जमा करवाने के लिए गया था। इस दौरान जैसे ही वह बैंक के समक्ष साइकिल खड़ी करने लगा तो वहां पर मोटरसाइकिल पर सवार होकर दो नकाबपोश युवक पहुंच गए। इस दौरान एक युवक मोटरसाइकिल पर बैठा रहा और दूसरा नीचे उतरकर उसके पास पहुंच गया। इससे पहले वह कुछ समझ पाता आरोपित ने उसकी साइकिल पर टंगे पैसों से भरे थैले को छीनने लगे। उसने तुरंत थैले को पकड़ लिया और शोर मचाया। मगर आरोपित उसका पैसों से भरा थैला छीनकर मोटरसाइकिल पर सवार होकर भाग गए।

घटना की सूचना मिलते ही शहर यमुनानगर थाना प्रभारी सुखबीर सिंह व सीआईए टू इंचार्ज महरूफ अली पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस ने शहर में नाकाबंदी कर आरोपितों को पकड़ने का प्रयास किया। मगर उनका कुछ भी पता नहीं चला। बाद में पुलिस ने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ केस दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी।

सीसीटीवी की फुटेज से आरोपितों की करेंगे पहचान

मामले की जांच कर रहे शहर थाना प्रभारी सुखबीर सिंह ने बताया कि आरोपितों की पहचान के लिए सीसीटीवी फुटेज खंगाली जा रही है। उम्मीद है कि आरोपितों को जल्द पकड़ लिया जाएगा।

Next Story