Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हरियाणा सरकार ने पांच प्रमुख क्षेत्रों को चिह्नित किया, जानें क्यों

इन पांच प्रमुख फोकस क्षेत्रों की सूची में एयरोस्पेस और रक्षा, खिलौना उद्योग, सेवा क्षेत्र, निर्माण उद्योग और औद्योगिक अवसंरचना शामिल हैं , जिन्हें बढ़ावा दिया जाएगा । एयरोस्पेस और रक्षा के साथ साथ खिलौने विनिर्माण क्षेत्र , वर्तमान में राष्ट्र के लिए फोकस क्षेत्र हैं ।

हरियाणा सरकार ने पांच प्रमुख क्षेत्रों को चिह्नित किया, जानें क्यों
X
हरियाणा सरकार (फाइल फोटो)

Haryana : सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम (एमएसएमई) क्षेत्र की क्षमताओं को बढ़ाने हेतु हरियाणा सरकार ने पांच प्रमुख क्षेत्रों को चिह्नित करते हुए , इन क्षेत्रों के लिए विशेष नीतियों को लाने का फैसला किया है ताकि इन चिन्हित फोकस क्षेत्रों में हरियाणा को देश में एक अग्रणी राज्य के रूप में स्थापित किया जा सके । इन पांच प्रमुख फोकस क्षेत्रों की सूची में एयरोस्पेस और रक्षा, खिलौना उद्योग, सेवा क्षेत्र, निर्माण उद्योग और औद्योगिक अवसंरचना शामिल हैं , जिन्हें बढ़ावा दिया जाएगा । एयरोस्पेस और रक्षा के साथ साथ खिलौने विनिर्माण क्षेत्र , वर्तमान में राष्ट्र के लिए फोकस क्षेत्र हैं ।

इस सम्बन्ध में अधिक जानकारी साझा करते हुए एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि इन क्षेत्रों के लिए विशेष नीतियां तैयार करने के लिए राज्य सरकार ने निर्णय लिया है क्योंकि सामाजिक - आर्थिक प्रगति के लिए एमएसएमई क्षेत्र सरकार के समग्र विकास एजेंडे में प्रमुखता रखता है । प्रवक्ता ने बताया कि इन विशेष नीतियों के माध्यम से शुरू की गई योजनाएं न केवल राज्य में इन क्षेत्रों की जरूरतों को पूरा करेंगी बल्कि हरियाणा को देश में अग्रणी राज्य के रूप में स्थापित करने में मदद करेंगी ।

वहीं , हरियाणा की बेहतरीन विनिर्माण प्रवीणता और विश्व स्तर पर प्रतिस्पर्धी ऑटोमोबाइल व इंजीनियरिंग क्षेत्र में अत्याधुनिक बुनियादी ढाँचा तथा स्वदेशी खिलोना निर्माण उद्योग को मजबूत करने पर ध्यान केंद्रित करने से देश के 'आत्मनिर्भर भारत' अभियान की महत्वपूर्ण आवश्यकता को पूरा करने में अपना सहयोग प्रदान कर सकता है ।

इसके अलावा , सेवा क्षेत्र और निर्माण उद्योग राज्य की अर्थव्यवस्था में विशेष प्रमुखता रखते हैं और जमीनी स्तर पर आजीविका के अवसरों के सृजन के लिए ग्रोथ इंजन बनने की क्षमता भी रखते हैं ।

उन्होंने बताया कि राज्य में एमएसएमई विकास के दृष्टिकोण को प्राप्त करने के लिए , एमएसएमई के लिए व्यापार करने की लागत को कम करने के साथ - साथ उद्यमिता को बढ़ावा देने के लिए उनके घरद्वार पर सुविधाएं प्रदान करने हेतु औद्योगिक पार्क बनाने की आवश्यकता है । इसलिए आज के परिदृश्य में 5 फोकस क्षेत्रों के महत्व को देखते हुए , राज्य सरकार ने इन विशेष नीतियों को लाने का फैसला किया है।

Next Story