Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

आज दो बजे शुरू होगा हरियाणा बजट सत्र, देखिये इस बार क्या रहेगा खास

पहले दिन राज्यपाल हरियाणा सत्यदेव नारायण आर्य का अभिभाषण होगा, जिसके लिए राजभवन और विधानसभा की प्रशासनिक अफसरों की ओर से तैयारी कर ली गई है।

आज दो बजे शुरू होगा हरियाणा बजट सत्र, देखिये इस बार क्या रहेगा खास
X

योगेंद्र शर्मा. चंडीगढ़

हरियाणा विधानसभा "बजट-सत्र" की शुरुआत शुक्रवार दोपहर दो बजे से होने जा रही है। पहले दिन राज्यपाल हरियाणा सत्यदेव नारायण आर्य का अभिभाषण होगा, जिसके लिए राजभवन और विधानसभा की प्रशासनिक अफसरों की ओर से तैयारी कर ली गई है।

शुक्रवार को सदन को चलाने से पहले सुबह 11 बजे मीटिंग रखी गई है। जिसमें मुख्यमंत्री मनोहरलाल, डिप्टी सीएम नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा, डिप्टी स्पीकर, संसदीय कार्य मंत्री कंवरपाल हिस्सा लेंगे। जिसमें सदन की कार्यवाही कब-कब कैसे चलाई जाएगी, यह तय कर लिया जाएगा। राज्यपाल के अभिभाषण के बाद में आधा घंटे का ब्रेक होगा और बाद में शोक प्रस्ताव होंगे। इसके बाद में पहले दिन की कार्यवाही बीएसी (बिजनेस एडवाइजरी कमेटी) की मीटिंग में लिए फैसले और शैडयूल से सदन को अवगत कराया जाएगा। जिसके बाद में पहले दिन की कार्यवाही स्थगित हो जाएगी। शनिवार औऱ रविवार को अवकाश रहेगा। सोमवार को एक बार फिर दोपहर से सत्र की कार्यवाही की शुरुआत होगी और राज्यपाल के अभिभाषण पर चर्चा की शुरुआत होगी।

सूबे के सीएम और सदन के नेता मनोहरलाल अपने विधायकों, पूर्व विधायकों, पार्टी संगठन नेताओं व सांसदों के साथ में अहम बैठकें ले चुके हैं। जिसके बाद सदन के लिए ऱणनीति भी तैयार कर चुके हैं। दूसरी तरफ कांग्रेस विधायक नेता विपक्ष भूपेंद्र सिहं हुडडा के नेतृत्व में पहले ही दिन से आक्रामक रणनीति तैयार कर चुके हैं। इसीलिए पहले ही दिन पंजाब हरियाणा हाई कोर्ट के करीब से राजभवन तक जाने प्रदर्शन, जुलूस का कार्यक्रम तैयार किया गया है। नेता विपक्ष और उनके साथियों ने सदन में शराब घोटाले, जहरीली शराब से मौत, किसानों के आंदोलन पर घेरने की ऱणनीति तैयार कर ली है।

राज्यपाल इस बार भी संक्षिप्त पढ़कर पूरा करेंगे अभिभाषण !

प्रदेश के राज्यपाल सत्यदेव आर्य़ पहले दिन अपने अभिभाषण को संक्षिप्त में पढ़कर पढ़ा समझा जाए कहकर इसे समाप्त कर सकते हैं। जिसको लेकर पहले की तरह से विपक्ष हमलावर हो सकता है। पिछली बार भी स्वास्थ्य कारणों से राज्यपाल ने इसे पूरा नहीं पढ़ा था। पहले दिन की कार्यवाही समाप्त होने के बाद में सीएम मनोहरलाल की अध्यक्षता में मंत्री मंडल के साथियों की बैठक की जा सकती है।

विपक्ष के पास में मुद्दे नहीं : विज

प्रदेश के गृहमंत्री औऱ भाजपा के वरिष्ठ नेता अनिल विज, मूलचंद शर्मा और जेपी दलाल, मंत्री रणजीत चौटाला अन्य का कहना है कि सदन में बोलने के लिए विपक्ष के पास में मुददे नहीं होते। राज्य की सरकार कोविड की चुनौती के बाद भी बेहतरीन काम कर रही है। कांग्रेस के साथी अपने दिनों को याद करें, जनता ने उन्हें सिरे से क्यों नकार दिया था.?

पहली बार लोकदल रहित रहेगा सदन

शुक्रवार को हरियाणा बजट सत्र की शुरुआत होगी, साथ ही एसा पहला मौका होगा जब सदन में इनेलो का एक भी विधायक नहीं होगा। मनोहरलाल सरकार पार्ट-2 में एलनाबाद विधानसभा सीट से खुद अभय चौटाला जीतकर विधानसभा में पहुंचे थे। लेकिन तीन कृषि कानूनों के विरुद्ध और किसानों के समर्थन में इकलौते विधायक अभय चौटाला ने एक माह पहले इस्तीफा दिया था। अभय चौटाला द्वारा इस्तीफा देते हुए विधानसभा स्पीकर ने इस्तीफे को स्वीकार कर लिया था। जिसके साथ ही अब यह भी तय है कि एलनाबाद विधानसभा क्षेत्र में छह माह के अंदर अंदर चुनाव कराने होंगे।

कालका और एलनाबाद दो सीटें हाउस में खाली

हरियाणा मनोहरलाल सरकार पार्ट टू में अब विधानसभा की दो सीटें कालका और एलनाबाद खाली पड़ी हुई हैं। इनमें से एक सीट विधायक अभय चौटाला के इस्तीफा दे दिए जाने और दूसरी विधानसभा की सीट कालका से कांग्रेस के विधायक प्रदीप चौधरी कालका को हिमाचल नालागढ़ की एक अदालत के प्रथम श्रेणी न्यायिक अधिकारी द्वारा एक नौ साल पुराने मामले में सजा सुना दिए जाने के बाद में खाली हुई है। अभी प्रदीप चौधरी को ऊपरी अदालत से भी किसी तरह की राहत नहीं मिल सकी है। इसीलिए हाउस में इस समय 90 में से 88 की संख्या है। दूसरी अहम बात यह है कि इस बार की सरकार में कांग्रेस पार्टी की टिकट पर जीतकर आने वाले श्रीकृष्ण हुडडा की भी बीमारी के बाद में मृत्यु हो गई थी। जहां पर उपचुनाव होने के बाद में एक बार फिर से कांग्रेस को वहां विधायक बनाने का मौका मिला था। इस तरह से कांग्रेस के एक अन्य सदस्य कालका सीट की कमी भी इस बार सदन में खलेगी। अर्थात कांग्रेस का एक विधायक फिलहाल कम है।



Next Story