Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Haryana में भाजपा-जजपा सरकार के खिलाफ कांग्रेसियों ने धरना दिया, तथाकथित घोटालों की निष्पक्ष जांच की मांग

हरियाणा में कोरोना महामारी और लॉकडाउन के बीच हुए घोटालों की निष्पक्ष जांच करवाने मांग को लेकर कांग्रेस नेताओं ने गुरुवार को पूरे प्रदेश जिला स्तर पर धरना दिया और सभी जिलों में जिला उपायुक्तों को ज्ञापन सौंपे।

Haryana में भाजपा-जजपा सरकार के खिलाफ कांग्रेसियों ने धरना दिया,  तथाकथित घोटालों की निष्पक्ष जांच की मांग
X

हरियाणा प्रदेश जहां एक और भयावह कोरोना महामारी से लड़ाई लड़ रहा है, वहीं दूसरी ओर भाजपा-जजपा सरकार तथा अधिकारियों की मिलीभगत से प्रदेश में घोटालों को अंजाम देकर खुलेआम लूट की जा रही है। कोरोना महामारी/लॉकडाउन के बीच हरियाणा प्रदेश में कई घोटालों को अंजाम दिया गया है। बीते 6 वर्षों में हरियाणा में शराब घोटाले, रजिस्ट्री घोटाले व अन्य घोटालों में जमकर लूट की गई है। सरकार द्वारा लगातार इन घोटालों को दबाने के प्रयास किए जा रहे हैं। इन घोटालों की जांच हाईकोर्ट के सिटिंग जज से करवाई जाए। हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष सैलजा ने भाजपा-जजपा सरकार में हो रहे घोटालों और भ्रष्टाचार के खिलाफ नूंह में आयोजित विरोध-प्रदर्शन को संबोधित करते हुए कहीं।

गुरुवार को सैलजा के निर्देशानुसार पूरे प्रदेश में जिला स्तर पर हरियाणा कांग्रेस द्वारा भाजपा-जजपा सरकार में हो रहे घोटालों और भ्रष्टाचार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किए गए। विरोध प्रदर्शन के उपरांत जिला उपायुक्तों को राज्यपाल के नाम ज्ञापन भी सौंपे गए और इन घोटालों की जांच हाईकोर्ट के सिटिंग जज से करवाने की मांग की गई। हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष कुमारी सैलजा ने खुद नूंह में विरोध प्रदर्शन का नेतृत्व किया।

कुमारी सैलजा ने कहा कि भाजपा-जजपा सरकार में निरंतर घोटालों और भ्रष्टाचार को अंजाम दिया जा रहा है। इस सरकार में घोटालों की लिस्ट लगातार लंबी होती जा रही है। जब पूरा प्रदेश कोरोना महामारी से लड़ रहा है उस वक्त भी इस सरकार में जमकर घोटालों को अंजाम दिया जा रहा है। सैलजा ने कहा कि हरियाणा में कोरोना महामारी को देखते हुए लगाए गए लॉकडाउन के बीच शराब घोटाले में सैकड़ों-हजारों करोड़ की शराब बिक्री व तस्करी की परतें लगातार खुल रही हैं। इस घोटाले में शराब माफिया के तार सीधे-सीधे उच्च पदों पर बैठे राजनीतिज्ञों तथा आला अधिकारियों से जुड़े हैं। सरकार द्वारा इस घोटाले को दबाने के भरकस प्रयास किए जा रहे हैं।

कैथल के लघु सचिवालय के प्रांगण में पूर्व मंत्री जयप्रकाश(जेपी), वरिष्ठ कांग्रेस नेता सुदीप सुरजेवाला, पूर्व संसदीय सचिव दिल्लूराम बाजीगर,पूर्व मंत्री सुल्तान जडौला व पुंडरी से कांग्रेस प्रत्याशी सतबीर भाणा ने धरना दिया व राष्ट्रपति के नाम तहसीलदार को ज्ञापन सौंपा। वहीं हरियाणा की भाजपा-जजपा गठबंधन सरकार के भष्ट्राचार व घोटालों के खिलाफ रेवाडी में पूर्व मंत्री कैप्टन अजय सिंह यादव ने कांग्रेसी कार्यकर्ताओं के साथ जिला प्रशासन को ज्ञापन सौंपा।

Next Story