Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

256 बदमाशों की थानों में परेड, बताया अपना काम-धंधा

शहर में चाकूबाजी, लूट और अड्डेबाजी रोकने अब पुलिस ने हिस्ट्रीशीटर पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। गुंडा और निगरानी बदमाशों की कुंडली तैयार की जा रही है। ऐसे बदमाश जो जेल से बाहर हैं और क्राइम कर रहे हैं उनको पुलिस जेल भेज रही है। यही नहीं बदमाशों का डेटा भी अपडेट किया जा रहा है।

256 बदमाशों की थानों में परेड, बताया अपना काम-धंधा
X
जेल (प्रतीकात्मक फोटो)

शहर में चाकूबाजी, लूट और अड्डेबाजी रोकने अब पुलिस ने हिस्ट्रीशीटर पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। गुंडा और निगरानी बदमाशों की कुंडली तैयार की जा रही है। ऐसे बदमाश जो जेल से बाहर हैं और क्राइम कर रहे हैं उनको पुलिस जेल भेज रही है। यही नहीं बदमाशों का डेटा भी अपडेट किया जा रहा है।

उनका नाम, पता और पेशा समेत अन्य डिटेल रजिस्टर पर दर्ज किया जा रहा है। एक ही दिन में ऐसे 26 गुंडा-बदमाशों को पुलिस ने जेल भेजा है। वहीं दर्जनों गुंडा-बदमाश सलाखों में कैद हैं। दरअसल, चाकूबाजी और मोबाइल लूट जैसे मामलों में गुंडा-बदमाशों के नाम आने पर एसएसपी अजय कुमार यादव ने सभी बदमाशों की लिस्ट अपडेट करने कहा। इसके बाद अब बदमाशों पर होमवर्क शुरू हो गया है।

256 बदमाशों का डेटा अपडेट

पुलिस के मुताबिक जिलेभर में करीब 527 गुंडा बदमाश हैं जिनमें से मंगलवार को 256 गुंडा बदमाशों को थानाें पर बुलाया गया। उनका नाम, पिता का नाम, पता, रिश्तेदार, दोस्त, मोबाइल नंबर और वर्तमान में क्या काम कर रहे हैं जैसी तमाम जानकारी रजिस्टर पर दर्ज की गई। ऐसे बदमाश जो व्यवसाय व नौकरी नहीं कर रहे हैं उनको हर हफ्ते थाने पर हाजिरी देने कहा गया। गुंडा-बदमाशों की डिटेल नोट करने के बाद इनका कंप्यूटर में दर्ज डेटा अपडेट किया गया।

46 बदमाश सलाखों में कैद

पुलिस के मुताबिक जिलेभर के गुंडा और निगरानी बदमाशों में करीब 46 बदमाश ऐसे हैं जो वर्तमान में रायपुर सेंट्रल जेल या फिर दूसरी जेल में बंद हैं। इनकी डिटेल भी अपडेट की गई।

सुधरने का मौका

गुंडा-निगरानी बदमाशों को थाने बुलाकर डिटेल अपडेट की जा रही है। साथ ही उन्हें सुधरने का एक मौका दिया गया है। जो बदमाश अब भी वारदात में लिप्त हैं उन्हें जेल भेज गया है।


Next Story