Logo
Mahakal Mandir Ujjain: मध्य प्रदेश के उज्जैन स्थित महाकाल मंदिर में व्यापक सुरक्षा व्यवस्था के बावजूद चोरी और जेबकतरी की घटनाएं नहीं थम रहीं। शनिवार दोपहर मामूली धक्का-मुक्की के बाद मुंबई से आए श्रद्धालु ने आंध्रप्रदेश के दर्शनार्थी का सिर फोड़ दिया।

Mahakal Mandir Ujjain: उज्जैन के विश्व प्रसिद्ध महाकालेश्वर मंदिर में सुरक्षा व्यवस्था के नाम पर हर महीने 50 लाख से ज्यादा राशि खर्च की जाती है। मंदिर परिसर में अव्यस्था न हो, इसके लिए अलग-अलग तीन शिफ्ट में करीब 500 सुरक्षा गार्ड तैनात किए गए हैं, इसके बावजूद यहां विवाद और जेबकतरी की घटनाएं बढ़ गई हैं।

महाकाल महालोक बनने के बाद महाकालेश्वर मंदिर में हर हर माह लाखों श्रद्धालु पहुंच रहे हैं। मंदिर का दायरा बढ़ने के बाद सुरक्षा गार्ड भी बढ़ाए गए हैं। 500 से अधिक सुरक्षाकर्मी मंदिर परिसर और महाकाल महालोक परिसर में तैनात हैं। इसके बाद भी श्रद्धालु सुरक्षित नहीं हैं।  

महाकाल मंदिर परिसर में पिछले महीने श्रद्धालु की जेब से 27 हजार रुपए पार हो गए थे। पुलिस ने जेबकतरे को पकड़ा, लेकिन छोड़ दिया। शनिवार दोपहर महाकाल मंदिर परिसर में मुंबई से आए श्रद्धालु ने आंध्रप्रदेश के दर्शनार्थी का सिर फोड़ दिया। बाईं आंख के पास गंभीर चोंट लगने से शर्ट का ऊपरी हिस्सा खून से भीग गया।

दरअसल, महाकाल मंदिर में इन दिनों श्रद्धालुओं की खासी भीड़ उमड़ रही है। शनिवार को बृहस्पतिश्वर मंदिर में दर्शन के दौरान मामूली धक्का लगने की बात शुरू हुई कहासुनी मारपीट तक जा पहुंची। मुंबई से आए श्रद्धालु ने आंध्र प्रदेश से दर्शनार्थी रघुराज (47) पर हमला कर दिया। जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गए। सुरक्षाकमियों ने पुलिस को सूचित कर अस्पताल पहुंचाया है। 

थाने नहीं पहुंच पाते कई मामले  
महाकाल मंदिर में पिछले महीने दिल्ली से आए सुप्रीम कोर्ट के वकील से मारपीट हुई थी। आगजनी की घटना में मंदिर के पुजारी की मौत हो गई। इसके बाद भी प्रशासन गंभीर नहीं है। पर्स चोरी, मोबाईल चोरी और जेबकतरी जैसी छोटी मोटी कई घटनाएं तो थाने तक पहुंचती ही नहीं हैं। यही कारण है कि बदमाश बेखौफ होकर वारदात को अंजमा दे रहे हैं।  

jindal steel Ad
5379487