Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जन घोषणापत्र में किए गए वादे याद दिलाने आंदोलन

प्रदेशभर के विभिन्न विभागों में कार्यरत अनियमित कर्मचारी छत्तीसगढ़ अनियमित कर्मचारी महासंघ के आव्हान पर 11 जुलाई को मशाल रैली निकालेंगे। प्रदेश सरकार काे अपनी लंबित मांगों के प्रति ध्यान दिलाने अनियमित कर्मचारियों ने आंदोलन छेड़ने का निर्णय लिया है।

जन घोषणापत्र में किए गए वादे याद दिलाने आंदोलन
X
आंदोलन रैली (प्रतीकात्मक फोटो)

प्रदेशभर के विभिन्न विभागों में कार्यरत अनियमित कर्मचारी छत्तीसगढ़ अनियमित कर्मचारी महासंघ के आव्हान पर 11 जुलाई को मशाल रैली निकालेंगे। प्रदेश सरकार काे अपनी लंबित मांगों के प्रति ध्यान दिलाने अनियमित कर्मचारियों ने आंदोलन छेड़ने का निर्णय लिया है।

प्रदेश अध्यक्ष रवि गढ़पाले का कहना है कि महासंघ द्वारा राज्य सरकार को जन घोषणापत्र में किए गए वादे पूरे करने पूर्व में भी ध्यान दिलाया गया। नियमितीकरण प्रावधान बनाने कई बार जनप्रतिनिधियों के माध्यम से मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और कैबिनेट मंत्रियों को ज्ञापन देकर आग्रह किया गया पर आज तक सरकार उनकी मांगों को लेकर ध्यान नहीं दे रही।

प्रदेश संयोजक अनिल कुमार देवांगन ने 1 लाख 80 हजार अनियमित कर्मचारियों और उनके परिवार के सदस्यों की सामाजिक एवं आर्थिक सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए कर्मचारियों के नियमितीकरण की मांग की है। महासंघ के पूर्व प्रदेश संयोजक गोपाल प्रसाद साहू ने अनियमित कर्मचारियों को नियमित करने के लिए आंदोलन को आर या पार की लड़ाई करार दिया है।


Next Story