Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मेंढक चाल नहीं चल पाया युवक तो तहसीलदार ने मारी लात, सोशल मीडिया पर वायरल हुआ वीडियो

मेंढक चाल चलवाकर घुमाया। सही से नहीं चल पाने पर तहसीलदार ने युवक को मारी लात।

मध्यप्रदेश में चार आईपीएस अधिकारियों का तबादला
X
MP News : Four IPS officers transferred in Madhya Pradesh

प्रदेश में तेजी से फैल रहे (Coronavirus)कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए (Curfew) कर्फ्यू लागू किया गया है। इसके बावजूद कुछ लोग बाहर निकल रहे हैं। उन्हें रोकने के लिए पुलिस और प्रशासनिक टीम तरह तरह के प्रयोग कर रहे हैं। इसी कड़ी में जनता कर्फ्यू के दौरान बाहर निकले कुछ युवकों को पुलिस प्रशासन ने मेंढक चाल चलवाई। जब एक युवक ऐसा करने में असमर्थ रहा तो तहसीलदार ने उसको लात मारी। इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल (Video Viral) हो चला है। इस वीडियो को देखकर हर कोई पुलिस और प्रशासन की निंदा कर रहा है।

खबरों के अनुसार, पुलिस प्रशासन के जनता कर्फ्यू के दौरान बाहर टहलते हुए लोगों को मेंढक चाल चलवाकर ढोल की धुन पर कस्बे में जुलूस के रूप में घुमाया। उन्होंने बताया कि इनमें से एक व्यक्ति किसी परेशानी के चलते मेंढक चाल नहीं चल पा रहा था। इस पर प्रशासन की टीम में मौजूद तहसीलदार ने गुस्से में व्यक्ति के पिछले हिस्से पर जोरदार लात मारी। लोगों ने इसका वीडियो भी बना लिया। जो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस संबंध में जिलाधिकारी मनीष सिंह ने ने कहा कि तहसीलदार ने यह गलत किया है। मैंने इसके लिए उन्हें डांटा भी है।" जिलाधिकारी ने कहा कि जब भी महामारी रोग अधिनियम लागू होता है, तब कोई भी व्यक्ति नहीं कह सकता कि उसकी जान की जिम्मेदारी केवल उसी की है। उसकी जान की जिम्मेदारी प्रशासन की रहती है। अगर वह व्यक्ति कोई लापरवाही करता है, तो दंड का भागी जरूर होता है।"

बता दें कि मध्यप्रदेश में (Indore) इंदौर कोरोना वायरस संक्रमण से सबसे ज्यादा प्रभावित होने वाला जिला है। यहां महामारी की दूसरी लहर की रोकथाम के लिए जनता कर्फ्यू लगाया गया है। कर्फ्यू के दौरान लोगों को बेहद जरूरी काम होने पर ही घर से बाहर निकलने की इजाजत दी जाती। सरकारी आंकड़ों के अनुसार, यहां करीब 35 लाख की आबादी वाले जिले में 24 मार्च 2020 से लेकर अब तक कोरोना वायरस संक्रमण के 1,16,280 मरीज मिले हैं। इनमें से 1,163 लोगों की मौत हो चुकी है।

Next Story