Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

इस बार मई माह में बजेगी सबसे ज्यादा शहनाई, शादियों के लिए सबसे अधिक 20 मुहूर्त

अब नए साल के आगमन पर शादियों का सिलसिला भी शुरू हो चुका है। हालांकि अभी शादियों के मुहूर्त के लिए लोगों को 20 अप्रैल तक का इंतजार करना पड़ेगा लेकिन उसके बाद शादी के मुहूर्त रफ्तार पकड़ेंगे।

इस बार मई माह में बजेगी सबसे ज्यादा शहनाई, शादियों के लिए सबसे अधिक 20 मुहूर्त
X

शादी मुहूर्त

हरिभूमि न्यूज : भिवानी

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी व कर्मचारी कोरोना संक्रमण को समाप्त करने के लिए जितनी मेहतन कर रहे हैं उस हिसाब से जल्द ही जिला एक बार फिर से कोरोन की कैद से बाहर आ सकता है। यह राहत जहां शहरवासियों के लिए सुकुन भरी होगी तो वहीं शादी कारोबार से जुड़े जिले के पांच लाख लोगों के लिए भी नई उम्मीद लेकर आएगी। पिछले साल जहां शादी कारोबार से जुड़े लोगों को आर्थिक परेशानी का सामना करना पड़ा था तो वहीं शादियां भी धूमधाम से नहीं हो पाई थी जिससे शादी करने वाले वर वधु तथा परिवारिक सदस्य शादी के चाव को पूरा नहीं कर पाए थे।

अब नए साल के आगमन पर शादियों का सिलसिला भी शुरू हो चुका है। हालांकि अभी शादियों के मुहूर्त के लिए लोगों को 20 अप्रैल तक का इंतजार करना पड़ेगा लेकिन उसके बाद शादी के मुहूर्त रफ्तार पकड़ेंगे। सबसे अधिक शादियों की शहनाई इस बार मई माह में बजेगी। फरवरी माह में आने वाली बसंत पंचमी शादियों के लिए अनबुझ सावा माना जाता है लेकिन इस बार गुरू और शुक्र ग्रह के अस्त होने के चलते शादियों के लिए मुहूर्त शुभ नहीं माना जा रहा है। मार्च में होली का त्यौहार होने के चलते शादियों पर पांबदी रहेगी तो वहीं 18 अप्रैल को शुक्र ग्रह के अस्त होने के बाद शादियों व शुभ कार्यों के लिए मुहूर्त शुरू हो जाएंगे।

मई में 20 तो जून में 13 दिन बजेगी शहनाई

साल 2020 में जहां कोरोना वायरस के चलते शादी के शुभ मुहूर्त में भी शादियों नहीं हो पाई। अब कोरोना वायरस का प्रभाव कम होने और सरकार की ओर से पाबंदी में राहत देने के बाद नए साल 2021 में शादियों का उत्साह देखने को मिलेगा। जो शुभ कार्य 2020 में नहीं हो सके, वो नए साल 2021 में किए जाएंगे। पंडित कृष्ण कुमार बहल वाले ने बताया कि इस वर्ष में विवाह के बहुत शुभ मुहूर्त है। जिसमें मई में सबसे ज्यादा 20 मुहूर्त हैं, इसके अलावा जून में 13 और अप्रैल में 8 शुभ दिन है। जिसमें परिण्य सूत्र शादी के बंधन में बधेंगे ।

फरवरी - विवाह के लिए फरवरी माह में वैसे तो कोई मुहूर्त नहीं है, लेकिन इसी महीने में वसंत पंचमी आती है और कहा जाता है कि इस दिन अबूझ मुहूर्त होता है। इस वर्ष वसंत पंचमी 16 फरवरी को है।

अप्रैल - विवाह के लिए 8 शुभ दिन हैं। ये शुभ तारीखें हैं 22, 24, 25, 26, 27, 28, 29 और 30 अप्रैल।

मई - साल में सबसे ज्यादा शादियां मई में होंगी। कुल 20 मुहूर्त हैं, जिनकी तारीखें हैं 1, 2, 7, 8, 9, 12, 13, 14, 19, 20, 21, 22, 23, 24, 25, 26, 27, 28, 29 और 30 मई है।

जून - विवाह मुहूर्तों के लिए 13 शुभ दिन हैं। जून माह में 3, 4, 5, 16,18, 19, 20, 21, 22, 23, 24, 26 और 30 जून है।

जुलाई - शादी-ब्याह के लिए 5 दिन शुभ मुहूर्त निकल रहे हैं। ये तारीखें ं 1, 2, 7, 13 और 15 जुलाई है।

नवंबर- विवाह के लिए 3 माह के लंबे अंतराल के बाद 9 शुभ मुहूर्त आएंगे। ये तारीखें हैं 15, 16, 20, 21, 22, 27, 28, 29 और 30 नवंबर है।

दिसंबर- विवाह के लिए 1, 2, 6, 7, 11, 12 और 13 तारीख शुभ है।

Next Story