Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सुसाइड नोट में बयां किया दर्द : दोस्तों को उधार दिए रुपये नहीं मिलने पर परेशान होकर व्यक्ति ने कर ली आत्महत्या

पीड़ित परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने आरोपित रवि, रामजस व कमेटी चलाने वाले नाम नामालूम के खिलाफ आईपीसी की धारा 306,34 के तहत केस दर्ज किया है।

लगाई फांसी
X

  आत्महत्या

हरिभूमि न्यूज : नारनौल

शहर से सटे गांव रघुनाथपुरा में एक व्यक्ति ने आत्महत्या कर ली। परिजनों को मृतक की ओर से लिखा सुसाइड नोट मिला है। परिजनों का आरोप है कि हाइवे में जमीन जाने का मुआवजा व सरसों फसल की राशि कुछ समय के लिए दोस्तों को दी थी। वह राशि दोस्तों ने वापस नहीं लौटाई। हताश व परेशान होकर व्यक्ति ने आत्महत्या की है। पीड़ित परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने आरोपित रवि, रामजस व कमेटी चलाने वाले नाम नामालूम के खिलाफ आईपीसी की धारा 306,34 के तहत केस दर्ज किया है।

महावीर पुलिस चौकी में दी शिकायत में पीडि़त पिता सुरेश कुमार रघुनाथपुरा ने बताया है कि उसके दो बेटे है। दोनों शादीशुदा है। बड़ा बेटा सोमेश खेती बाड़ी का काम करता है। कुछ जमीन व धर्मकांटा हाईवे एनएस-11 में एक्वायर होने से मुआवजा राशि मिली थी। गांव के रवि व रामजस बड़े बेटे सोमेश के साथ उठते बैठते थे। उन्होंने बेटे से जमीन के मुआवजे की राशि व सरसों फसल की राशि कुछ दिन के लिए उधार ली थी। बेटे ने इन दोनों से बार-बार तगाजा करने पर भी पैसा नहीं दिए। रवि ने लड़के को झांसे में फंसाकर एक पैसे की कमेटी डलवाई हुई थी। जिस बारे रवि व बेटे को पता था। कमेटी की राशि के भुगतान ना होने पर तथा रवि व रामजस द्वारा पैसे नहीं देने के कारण बेटा सोमेश परेशान रहने लगा था।

14 जुलाई को सोमेश घर से यह कहकर गया था कि वह रवि व रामजस से पैसे लेने जा रहा है लेकिन ये दोनों पैसे मांगने पर डराते धमकाते है और पैसे नहीं देते है। यह कहकर वह परेशान हालत से घर से चला गया जो अगले दिन 15 जुलाई को बेटा सोमेश कुएं के कमरे पर पंखे के सहारे लटका मिला। बेटे सोमेश ने रवि, रामजस रघुनाथपुरा और पैसे की कमेटी (लॉटरी) नामालूम चलाने वाले से परेशानहोकर अपनी जीवनलीला समाप्त कर ली। तीनों बेटे सोमेश की मृत्यु के लिए जिम्मेदार है। आधार कार्ड ढुंढ़ते समय सोमेश से लिखित सुसाइड नोट उसके तख्त के गद्दे के नीेच मिला है।

Next Story