Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

यहां पर 1500 फुट तक बोर करने के बाद भी पानी नहीं निकलता, अब युवाओं ने शुरू की नई पहल

युवाओं ने कहा कि वे बुजुर्गों की अगुवाई में ही इस लड़ाई को लड़ेंगे और किसी भी तरह का राजनीतिक हस्तक्षेप नहीं होने दिया जाएगा। कोई समाजसेवी अगर इस मुहीम में साथ देता है तो उनका स्वागत है। युवाओं ने कहा कि अलग-अलग काम के लिए कमेटियां बनाई जाएगी ।

यहां पर 1500 फुट तक बोर करने के बाद भी पानी नहीं निकलता, अब युवाओं ने शुरू की नई पहल
X

महेंद्रगढ़ :  गांव में पंचायत करते हुए। फोटो: हरिभूमि

हरिभूमि न्यूज : महेंद्रगढ़

राजस्थान बार्डर के साथ लगते सात गांवों की पानी की समस्या के समाधान को लेकर गांव के युवाओं ने एक नई पहल शुरू की है। गांव पल्ह, बैरावास, गडानिया, पाल, खेड़की, निहालावास व दुलोठ गांव के सैकड़ों युवाओं ने इस नई मुहीम को लेकर बाबा गुप्तनाथ आश्रम पल्ह में एक पंचायत आयोजित की। इसमें इन सात गांवों के युवाओं ने संयुक्त रूप से बताया कि गांवों के जल स्तर की स्थिति बाकी अन्य गांवों से अलग है। यहां पर 1500 फुट तक बोर करने के बाद भी पानी नहीं निकलता और किसान लाखों रुपये का कर्जदार भी हो जाता है। अब तो इन गांवों में पीने के पानी की भी इतनी किल्लत है की टैंकरों पर निर्भर रहना पड़ता है।

इस अवसर पर युवाओं ने कहा कि गांवों में नहरें तो बनी हुई हैं, पर इनमें ना के बराबर ही पानी आता है। वर्षों पहले विभाग ने जो जोहड़ खोदे थे, उनमें भी पानी नहीं भरा जाता है। युवाओं ने कहा कि वे बुजुर्गों की अगुवाई में ही इस लड़ाई को लड़ेंगे और किसी भी तरह का राजनीतिक हस्तक्षेप नहीं होने दिया जाएगा। कोई समाजसेवी अगर इस मुहिम में साथ देता है तो उनका स्वागत है। युवाओं ने कहा कि अलग-अलग काम के लिए कमेटियां बनाई जाएगी जैसे गांव में संपर्क करना है, हर बार नहरी पानी के समय का रिकार्ड रखना, अधिकारियों से संपर्क करना हो या फिर कोई अन्य काम।

बैठक में श्री सुंडाराम ट्रस्ट के प्रधान संदीप मालड़ा भी पहुंचे। उन्होंने कहा कि उनका मुख्य उद्देश्य इन गांवों के युवाओं को जागरूक करना और जोड़ना है। इन गांवों के युवाओं को वे अपना सहयोग देते रहेंगे। सभी ने मिलकर तय किया की अगली बैठक बुधवार को पाल गांव के मंदिर में शाम पांच बजे आयोजित की जाएगी। इस मौके पर सुनील पल्ह, विजय गड़ानिया, जसवंत गड़ानिया, सचिन बैरावास, राजपाल बैरावास, नरेंद्र बैरावास, हरेंद्र, मनोज, प्रमोद, विक्की, प्रवीण, मास्टर हेमंत आदि मौजूद थे।

Next Story