Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पुरस्कार देने के लिए हरियाणा संस्कृत अकादमी ने इन साहित्यकारों का किया चयन, देखें लिस्ट

हरियाणा संस्कृत अकादमी ने वर्ष 2017 तथा वर्ष 2018 के लिए संस्कृत के साहित्यकारों के लिए पुरस्कारों की घोषणा की है। अकादमी के निदेशक डॉ. दिनेश शास्त्री ने यह जानकारी दी।

पुरस्कार देने के लिए हरियाणा संस्कृत अकादमी ने इन साहित्यकारों का किया चयन, देखें लिस्ट
X

हरियाणा साहित्य अकादमी

हरियाणा संस्कृत अकादमी ने वर्ष 2017 तथा वर्ष 2018 के लिए संस्कृत के साहित्यकारों के लिए पुरस्कारों की घोषणा की है। अकादमी के निदेशक डॉ. दिनेश शास्त्री ने बताया कि वर्ष 2017 के लिए डॉ. वेद प्रकाश उपाध्याय, चंडीगढ़ तथा वर्ष 2018 के लिए डॉ. जगदीश प्रसाद सेमवाल, जीरकपुर को संस्कृत साहित्यालंकार सम्मान के लिए चुना गया है।

इसी प्रकार, 'हरियाणा संस्कृत गौरव सम्मान' हेतु वर्ष 2017 के लिए डॉ. हरिसिंह शास्त्री, गुरूग्राम, वर्ष 2018 के लिए डॉ. विक्रम कुमार विवेकी, पंचकुला तथा 'महर्षि वाल्मीकी सम्मान' हेतु वर्ष 2017 के लिए रेश्मानंद शर्मा, वर्ष 2018 के लिए डॉ. नरेश कुमार बत्रा,अंबाला का चयन किया गया है। 'आचार्य स्थाणुदत्त सम्मान' हेतु वर्ष 2017 के लिए डॉ. सुरेंद्र मोहन मिश्र, कुरूक्षेत्र तथा वर्ष 2018 के लिए डॉ. मिथिलेश शर्मा, हिसार को और 'महर्षि वेदव्यास सम्मान' हेतु वर्ष 2017 के लिए आचार्य सज्जन कुमार शर्मा, चरखी दादरी तथा वर्ष 2018 के लिए प्रो. ललित कुमार गौड़, कुरूक्षेत्र का चयन किया गया है।

अकादमी निदेशक ने बताया कि 'महर्षि विश्वामित्र सम्मान' हेतु वर्ष 2017 के लिए डॉ. कामदेव झा, अंबाला कैंट तथा वर्ष 2018 के लिए श्री विरजानंद दैवकरणि, झज्जर और 'महाकवि बाणभट्ट सम्मान' के लिए वर्ष 2017 के लिए डॉ. शिवानी शर्मा,जींद तथा वर्ष 2018 के लिए डॉ. केशवदेव, जीरकपुर को चयनित किया गया है। इसी प्रकार, 'गुरु विरजानंद आचार्य सम्मान' हेतु वर्ष 2017 के लिए आचार्य शशिभूषण मिश्र तथा वर्ष 2018 के लिए मधुरलता मान, पानीपत को और 'विद्या मार्तण्ड पं. सीताराम शास्त्री आचार्य सम्मान' हेतु वर्ष 2017 के लिए डॉ. राजबाला आर्या,करनाल तथा वर्ष 2018 के लिए आचार्य सुरेश कुमार शास्त्री, पानीपत को चुना गया है।

उन्होंने बताया कि 'पं. युधिष्ठिर मीमांसक आचार्य सम्मान' हेतु वर्ष 2017 के लिए आचार्य विनय मिश्र,भिवानी तथा वर्ष 2018 के लिए आचार्य रणवीर सिंह,कुरूक्षेत्र और 'स्वामी धर्मदेव संस्कृत समाराधक सम्मान' हेतु वर्ष 2017 के लिए आचार्य अशोक कुमार मिश्र, करनाल तथा वर्ष 2018 के लिए श्री रमेश कुमार मिश्र,भिवानी का चयन किया गया है। उन्होंने बताया कि पुस्तक-पुरस्कारों में 'पद्य विद्या' हेतु वर्ष 2018 के लिए डॉ. जोगेंद्र कुमार, भिवानी को उनकी पुस्तक 'जीवन सौरभम्' के लिए और 'एकांकी संग्रह अनुवाद नाटक' हेतु वर्ष 2017 के लिए श्रीमती पार्वती शर्मा,हिसार की पुस्तक 'शौर्यगाथा' तथा वर्ष 2018 के लिए श्री सुशील कुमार शास्त्री,हिसार की पुस्तक 'वृक्षनाथपितामह: सुरक्षित:' का चयन किया गया है। इनके अलावा, 'नाटक विधा' हेतु वर्ष 2017 के लिए डॉ. चितरंजनदयाल सिंह कौशल की पुस्तक 'प्रयोगपंचकम्' को तथा डॉ. धर्मवीर कुंडू की पुस्तक 'पंडित दीनदयालचरितम्' को प्रकाशनार्थ सहायतानुदान के लिए चुना गया है।


Next Story