Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पढ़े-लिखे युवाओं ने अमीर बनने के लिए बनाई बच्चे के किडनेप की योजना, दो कार भी लूटी, लेकिन...

आरोपित विनय ने अपने साथियों को बताया था कि वह एक प्रॉपर्टी डीलर को जानता है, जिसके पास करोड़ों रुपये हैं। यदि उसके लडक़े का अपहरण कर लिया जाए तो फिरौती के रूप में मोटी रकम मिल जाएगी।

पढ़े-लिखे युवाओं ने अमीर बनने के लिए बनाई बच्चे के किडनेप की योजना, दो कार भी लूटी, लेकिन...
X

 पुलिस की गिरफ्त में लूटपाट के आरोपित।

गुडग़ांव। नशे की लत व अमीर बनने की चाहत में ही तीन युवकों ने प्रॉपर्टी डीलर के बेटे का अपहरण करके फिरौती लेने की योजना बनाई। जिसके लिए उन्होंने रेकी की और वारदात में इस्तेमाल के लिए दो गाडिय़ों को लूटा। लेकिन बच्चे का किडनेप करने से पहले ही पुलिस के हत्थे चढ़ गए। पुलिस ने आरोपित युवकों से लूटी हुई दो कार व एक पिस्टल और दो जिंदा कारतूस बरामद कर मामला दर्ज कर लिया। पुलिस आरोपितों से पूछताछ कर रही है। फरुखनगर क्राइम ब्रांच के प्रभारी एसआई अमित कुमार ने टीम का गठन कर कार लूट की वारदातों के आरोपितों को पकडऩे के लिए जाल बिछाया। जिसके बाद पुलिस ने सुल्तानपुर लेक के समीप साढराना गांव से तीन युवक विनय, अमित व तुषार को काबू कर लिया। आरोपितों ने गन प्वाईंट पर मारपीट कर अलग-अलग जगह से दो कार लूटी थी। जिसमें खुलासा हुआ कि इन्होंने एक पॉपर्टी डीलर के बेटे के किडनेप के लिए इन कारों को लूटा था।

प्रॉपर्टी डीलर के बेटे का अपहरण के लिए की लूटपाट

आरोपित विनय ने अपने साथियों को बताया कि वह एक प्रॉपर्टी डीलर को जानता है, जिसके पास करोड़ों रुपये हैं। यदि उसके लडक़े का अपहरण कर लिया जाए तो फिरौती के रूप में मोटी रकम मिल जाएगी। योजनानुसार इसने अपने साथियों के साथ मिलकर प्रॉपर्टी डीलर के बेटे का अपहरण करने के लिए रेकी की थी। वहीं इसी के लिए 2 गाडिय़ां लूटने की वारदात को भी अंजाम दिया। लूटी हुई एक गाड़ी में बच्चे का अपहरण करके बच्चे को बंदी बनाकर रखना था तथा दूसरी गाड़ी का प्रयोग फिरौती की रकम प्राप्त करने की योजना थी। वहीं बच्चे का अपहरण करने के बाद बच्चे को बेहोश करने के लिए इन्होंने सॉफ्टड्रिंक में नशे की गोलियां भी मिलाकर अपने पास रखी हुई थी। ये बच्चे का अपहरण करने की फिराक में घूम रहे थे, लेकिन इससे पहले ही पुलिस के हत्थे चढ़ गए।

मारपीट व गन प्वाइंट पर लूटी कार

सेक्टर- 10 थाना क्षेत्र में बीती 16 मई को सग्निेचर हॉस्पिटल के नजदीक रवि सेन नामक कार चालक अपने मालिक का इंतजार कर रहा था। इसी दौरान आरोपियों ने कार चालक से मारपीट की और उससे सैंट्रो कार छीनकर भाग गए। वहीं इसी थाना क्षेत्र में 25-26 मई की रात को करीब 12.30 पर आर्वी अस्पताल से आगे शिव मंदिर के पास बने ब्रेकर के पास संतोष नामक युवक अपनी गाड़ी से घर जा रहा था। आरोपियों ने उसकी गाड़ी में पीछे से टक्कर मारी। चालक गाड़ी रोककर चैक कर रहा था। इसीबीच एक्ससीडेंट करने वाली गाड़ी सैंट्रो जिसको रविसेन से लूटा गया था। उसमें सवार तीन युवक आए और पस्टिल की नोक पर गाड़ी लूटकर भाग गए।

पढ़े लिखें हैं आरोपी

वारदात के मास्टर माइंड आरोपी 27 वर्षीय विनय ने कम्प्यूटर साइंस में बीएससी किया हुआ है। जबकि 22 वर्षीय अमित भी बीएससी तृतीय वर्ष का छात्र है। इसके अलावा 20 साल का तुषार 12वीं पास है। लेकिन, नशे की लत व अमीर बनने की चाहत ने इनको क्राइम की गलत राह पर धकेल दिया। जिसके बाद वे पुलिस के हत्थे चढ़ गए। पुलिस ने तीनों पर मामला दर्ज कर लिया और कार्रवाई शुरू कर दी है।

और पढ़ें
Next Story