Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पुलिस और वकीलों में विवाद : पुलिस ने पानीपत बार के पूर्व प्रधान व पुत्र को पीटा, प्रदेशभर के वकीलों में रोष, पढें पूरा मामला

पुलिस टीम ने अपने बचाव को पिता व पुत्र पर केस दर्ज करवाया, वकीलों की नाराजगी भाप आरोपितों को कोर्ट में पेश करने नहीं लाई पुलिस, प्रदेश भर के बार प्रधानों ने पानीपत अध्यक्ष से ली घटना की जानकारी, मंगलवार को पानीपत में होगी वकीलों की बैठक।

पुलिस और वकीलों में विवाद : पुलिस ने पानीपत बार के पूर्व प्रधान व पुत्र को पीटा, प्रदेशभर के वकीलों में रोष, पढें पूरा मामला
X

पानीपत के कचहरी परिसर में बैठक करते वकील।

पानीपत। पानीपत के गांव सिवाह में जीटी रोड पर पसीना मोड-गांव सिवाह अंडरपास के नीचे पानीपत जिला बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष चौ.वेदपाल कादियान व इनके पुत्र गौरव के साथ वाहनों की जांच कर रही पुलिस टीम ने मारपीट की। मारपीट करने वाली पुलिस टीम ने वेदपाल व उनके पुत्र के खिलाफ अपने बचाव के लिए थाना हुडा सेक्टर 29 में केस दर्ज किया और दोनों को गिरफ्तार कर लिया। वहीं घटना के समय एएसपी पूजा वशिष्ठ मौके पर ही मौजूद थीं।

वकील व उनके पुत्र के साथ हुई मारपीट व गिरफ्तारी की घटना से पानीपत जिला बार एसोसिएशन, नाराज हो गई और वर्क सस्पेंड कर बैठक की। बैठक के बाद वकीलों का प्रतिनिधि मंडल बार के अध्यक्ष शेर सिंह खर्ब एडवोकेट की अध्यक्षता में पुलिस अधीक्षक शशांक सावन से मिला। शशांक ने इस मामले की निष्पक्ष जांच का भरोसा दिया। वहीं वकीलों में पुलिस के प्रति पनपे आक्रोश को भाप, हुडा सेक्टर 29 पुलिस ने वेदपाल कादियान व इनके पुत्र को पानीपत की कोर्ट में पेश नहीं किया। दोनों को थाने में ही जमानत दी गई। पानीपत के वकील बडी संख्या में हुडा सेक्टर 29 के थाने पहुंचे और वेदपाल कादियान व उनके पुत्र गौरव को घर पर छोड कर आए। इधर, पानीपत बार के पूर्व अध्यक्ष वेदपाल कादियान व इनके पुत्र के साथ मारपीट, केस दर्ज व गिरफ्तारी के बात प्रदेश भर के वकीलों में फैल गई। प्रदेश के अधिकतर जिलों के बार के अध्यक्षों व सचिवों ने पानीपत बार के अध्यक्ष व अन्य पदाधिकारियों से इस मामले की जानकारी ली। वहीं इस मामले को लेकर वकीलों की मंगलवार को बैठक होगी।

यह है मामला

पानीपत बार के पूर्व प्रधान वेदपाल कादियान, गांव सिवाह के मूल निवासी हाल निवासी बिशनस्वरूप कालोनी अपने पुत्र गौरव के साथ शुक्रवार की रात को अपने खेत की ट्यूबवेल की मोटर ठीक करने के बाद पानीपत आ रहे थे। रात करीब 12 बजे गौरव अपनी कार से व वेदपाल अपनी स्कूटी से पसीना मोड अंडरपास पहुंचे। अंडरपास के नीचे पुलिस नाका लगा कर वाहनों की जांच कर रही थी। बताया जा रहा है कि पुलिस ने गौरव के वाहन के कागजातों की जांच की। जांच के दौरान मास्क लगाने को लेकर पहले बहस हुई और इसके बाद मारपीट हुई। मारपीट के दौरान वेदपाल भी पीछे से आ गए, बेटे के साथ मारपीट होते देख, वे बीच बचाव करने लगे तो पुलिस टीम ने कथित रूप से उनके साथ भी मारपीट की। मारपीट करने वाली पुलिस टीम को जब ये पता चला कि वेदपाल कादियान पानीपत बार के पूर्व अध्यक्ष है और वरिष्ठ वकील है तो उनके हाथपांव फूल गए। देर रात को मारपीट करने वाली पुलिस टीम ने अपने बचाव में वेदपाल कादियान व उनके पुत्र गौरव के खिलाफ पुलिस की जांच को बाधित करने, मारपीट करने, हत्या की धमकी देने, वर्दी फाडने आदि के आरोप में सब इंस्पेक्टर जोगिंद्र सिंह ने केस दर्ज करवाया। पुलिस ने वेदपाल व उनके पुत्र गौरव को गिरफ्तार कर लिया।

सांसद व विधायकों ने ली घटना की जानकारी

सूत्रों से पता चला है कि सांसद संजय भाटिया व विधायक पानीपत शहरी प्रमोद विज और पानीपत ग्रामीण महिपाल ढांडा, जजपा के नेता व उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाल के बहनोई देवेंद्र कादियान, कांग्रेस के जिला समन्वयक पूर्व मंत्री बिजेंद्र कादियान, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जगदेव मलिक आदि ने पानीपत बार के पूर्व प्रधान वेदपाल कादियान व उनके पुत्र गौरव के साथ पुलिस द्वारा की गई मारपीट की घटना की जानकारी ली है। गौरतलब है कि वेदपाल कादियान अच्छे खासे रसूख वाले वकील है और 10 हजार मतदाताओं वाला गांव सिवाह भी पानीपत की राजनीति में अच्छा खासा दखल रखता है। वहीं ऐसा संभव है कि मंगलवार को वकीलों की बैठक में भाजपा, कांग्रेसी आदि दलों के नेता भी पहुंचे।

Next Story