Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Air Pollution : 21 नवंबर तक दिल्लीवासियों को नहीं मिलेगी प्रदूषण से राहत, आज भी खराब श्रेणी में दर्ज किया गया AQI

दिल्ली और एनसीआर (Delhi and NCR) में प्रदूषण (pollution) से स्थिति बेहद चिंताजनक बनी हुई है। मौसम पूर्वानुमान और अनुसंधान की प्रणाली (SAFAR) के मुताबिक आज दिल्ली में सुबह एक्यूआई (AQI) दर्ज किया गया।

Air Pollution : 21 नवंबर तक दिल्लीवासियों को नहीं मिलेगी प्रदूषण से राहत, आज भी खराब श्रेणी में दर्ज किया गया AQI
X

दिल्ली और एनसीआर (Delhi and NCR) में प्रदूषण (pollution) से स्थिति बेहद चिंताजनक बनी हुई है। मौसम पूर्वानुमान और अनुसंधान की प्रणाली (SAFAR) के मुताबिक आज दिल्ली में सुबह 362 एक्यूआई (AQI) दर्ज किया गया। हालांकि हवा की दिशा बदल गई है और इनमें थोड़ा सुधार हुआ है। पड़ोसी राज्यों से आने वाली हवाओं की दिशा में बदलाव के कारण दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) में वायु स्वास्थ्य (Air Health) में थोड़ा सुधार हुआ है।

पिछले दिनों से उत्तर-पश्चिम दिशा (North-West Direction) से आने वाली हवाएं बुधवार को पूर्व की ओर मुड़ गई हैं। इस वजह से ज्यादा पराली जलाने के बाद भी इसका प्रदूषण (Pollution) महज छह फीसदी रहा। अगले दो दिनों तक खराब हवा से राहत की कोई उम्मीद नहीं है। तो वही 20 नवंबर के बाद तेज हवा चलने से वायु की गुणवत्ता में सुधार हो सकता है।

सफर के अनुसार, पिछले 24 घंटों में पड़ोसी राज्यों में 2643 पराली जलाने की घटनाओं के कारण प्रदूषण (Pollution) में इसकी हिस्सेदारी केवल 6 प्रतिशत थी। इससे पहले 3 नवंबर को पराली के धुएं की हिस्सेदारी 6 प्रतिशत थी। हवा की दिशा पूर्व की ओर हो गई है। इससे हवा में पहले से मौजूद प्रदूषकों को कम करने में मदद मिली है। इस समय हवा में पीएम 10 का स्तर तीन गुना और पीएम 2.5 का स्तर तीन गुना से ज्यादा बना हुआ है। बुधवार को पीएम 10 का स्तर 316 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर (micrograms per cubic meter) और पीएम 2.5 का स्तर 200 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर था।

पीएम 10 का स्तर 100 से कम और पीएम 2.5 का स्तर 60 से कम होने पर इसे सुरक्षित माना जाता है। सफर ने पूर्वानुमान लगाया है कि अगले दो दिनों तक हवा की गुणवत्ता (Air Quality) बहुत खराब श्रेणी में रहेगी। 20 नवंबर से हवा की गति तेज हो जाएगी जिससे हवा में प्रदूषण को कम करने में मदद मिलेगी।

Next Story