Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

एक कमरे में बैठाए 22 से अधिक छात्र तो होगी कार्रवाई- कोरोना के चलते नई गाइडलाइन

कोरोना संक्रमण के नए वेरिएंट को देखते हुए सीबीएसई ने एक महत्वपूर्ण नोटिस जारी किया। अब एक क्लास में सिर्फ 22 बच्चों को बैठाया जाएगा। 22 से अधिक बच्चों को एक कक्षा में बैठाने वाले स्कूल के खिलाफ कार्रवाई होगी। शिक्षक, स्टाफ और छात्रों को मास्क लगाकर आना होगा। पढ़िए पूरी ख़बर.....

एक कमरे में बैठाए 22 से अधिक छात्र तो होगी कार्रवाई- कोरोना के चलते नई गाइडलाइन
X

रायपुर: कोरोना संक्रमण के नए वेरिएंट को देखते हुए सीबीएसई ने 10वीं और 12वीं टर्म-1 की परीक्षा को लेकर एक महत्वपूर्ण नोटिस जारी किया है। इसके मुताबिक, कोरोना वायरस संक्रमण को देखते हुए अब एक क्लास में सिर्फ 22 बच्चों को बैठाया जाएगा।

अगर कोई स्कूल 22 से अधिक बच्चों को एक कक्षा में बैठाता है, तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। शिक्षक व स्टाफ सहित सभी छात्रों को परीक्षा में मास्क लगाकर आना होगा। यदि कोई छात्र इससे इनकार करता है तो उसे परीक्षा में बैठने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

गौरतलब है कि इस बार सीबीएसई बोर्ड 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं दो टर्म में आयोजित की जा रही हैं। 10वीं के पहले टर्म की मुख्य विषयों की परीक्षा 30 नवंबर से, जबकि 12वीं की परीक्षा 1 दिसंबर से कराई जाएगी। वहीं, माइनर विषयों की परीक्षा पहले ही शुरू हो चुकी है। शाला स्तर पर इसका आयोजन किया गया। इसमें शामिल होने वाले छात्रों की संख्या बेहद कम होती है। इसलिए इस दौरान सामान्य निर्देश ही दिए गए थे। वहीं मुख्य परीक्षाओं के लिए सीबीएसई द्वारा कड़ी व्यवस्था की जा रही है।

Next Story