Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

तेजस्वी यादव ने आंतकियों से लोहा लेते वक्त शहीद हुये बिहार के वीर सपूत कैप्टन आशुतोष समेत चारों जवानों को दी श्रद्धांजलि

राजद नेता तेजस्वी यादव ने कुपवाड़ा में आतंकियों से लोहा लेते वक्त शहीद हुये बिहार के वीर सपूत कैप्टन आशुतोष कुमार समेत चारों जवानों को भावपूर्ण श्रद्धांजलि अर्पित की है।

tejashwi yadav paid tribute to the soldiers who were martyred while fighting terrorists
X

कैप्टन आशुतोष कुमार का फाइल फोटो 

महागठबंधन एवं राजद के नेता तेजस्वी यादव ने सोमवार को ट्वीट कर जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा में आतंकियों से लोहा लेते वक्त शहीद हुये देश के चार जवानों के साहस की सराहना की है। तेजस्वी यादव ने अपने संदेश में लिखा कि जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा में आतंकियों की घुसपैठ को नाकाम कर अदम्य साहस का प्रदर्शन करते हुए शहीद हुए बिहार के वीर सपूत मधेपुरा के लाल कैप्टन आशुतोष कुमार समेत चार जवानों को शत-शत नमन एवं भावपूर्ण श्रद्धांजलि!



शहीद कैप्टन आशुतोष कुमार बिहार के मधेपुरा के रहने वाले थे। जानकारी के अनुसार कैप्टन आशुतोष कुमार समेत चारों जवानों ने शहीद होने से पहले तीन आतंकियों को भी मार गिया। ये आतंकी घुसपैठ की कोशिश कर रहे थे। जिसको कैप्टन आशुतोष कुमार समेत उनके साथियों ने नाकाम कर दिया। जानकारी के अनुसार बीएसएफ के जवानों के साथ आतंकियों से यह मुड़भेड़ जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा सेक्टर के माछिल इलाके में हुई।

जानकारी के मुताबिक आंतकियों से लोहा लेते हुए कैप्टन आशुतोष कुमार ने शहीद होने से पहले दो आतंकियों को मार गिराया। शहीद कैप्टन आशुतोष कुमार मधेपुरा जिला के घैलाढ़ प्रखंड के भतरंधा परमानंदपुर पंचायत के जागीर टोला वार्ड-17 के रहने वाले बताये गये हैं। आशुतोष कुमार के पिता रविंद्र भारती घैलाढ़ पशु अस्पताल में कर्मचारी बताये जाते हैं। आशुतोष कुमार ने दो साल पहले ही बीएसएफ में नौकरी ज्वाइंन की थी। जानकारी के अनुसार आशुतोष कुमार नौ महीने से बॉर्डर पर तैनात थे।

आशुतोष कुमार के शहीद होने की सूचना उनके परिवार वालों को जैसे ही रविवार की शाम को लगी, उसके तुरंत बाद से पूरे गांव में शौक का माहौल है। आशुतोष कुमार दोनों बहनों के एकलौते भाई थे। बताया जाता है कि आशुतोष कुमार के शहीद होने की खबर से उनके परिवार व उनकी मां रो-रो कर बूरा हाल है।

बीएसएफ की ओर से मिली जानकारी के अनुसार रविवार की सुबह बीएसएफ के 12 जवानों की एक टीम पाकिस्तान बार्डर से सटे माछिल इलाके में पेट्रोलिंग कर रही थी। उसी वक्त 5 आतंकियों को पाकिस्तान की ओर से घुसपैठ करते देखा गया। इसके बाद वहां जवानों व आतंकियों के बीच मुठभेड़ शुरू हो गई।

Next Story