Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

आलू और गाजर की तरह खेत से निकल रही शराब, अजब कारनामे को देखकर दंग रह गए लोग

बिहार के छपरा में एक खेत से कच्ची शराब आलू, गाजर और प्याज सब्जियों की तरह निकल रही है। इस कारनामे को देखकर और सुनकर हर कोई हैरान है। बिहार उत्पाद विभाग और पुलिस की संयुक्त कार्रवाई में एक ऐसे ही मामले का खुलासा हुआ है।

bihar police excise department raid on Illegal liquor in field of Chapra Umanagar Mohalla
X

 छपरा अवैध शराब धंधा (प्रतीकात्मक तस्वीर)

बिहार (Bihar) में लागू शराबबंदी कानून (Prohibition law) को सफल बनाने के लिए सूबे की पुलिस एक से एक बेहतर कार्रवाई करती है। शराबबंदी कानून को तोड़ने वालों को जेल भिजवाती है। साथ सूबे में शराबबंदी कानून को कारगर साबित करने के लिए बिहार सरकार उत्पाद एवं मद्य निषेध विभाग के साथ मिलकर तरह-तरह की आए दिन कार्रवाई करते रहते हैं। दूसरी ओर बिहार में शराब के काले धंधे को करने वाले माफिया भी पूरी तरह से सक्रिय हैं। राज्य पुलिस (Police) शराब के गोरख धंधे (Liquor racket) को नाकाम करने के लिए एक प्रयास करती है। वहीं सक्रिय शराब माफिया (Wine mafia) पुलिस के एक प्रयास की काट में लाख तरीके खोज निकालते हैं। साथ ही अपने अवैध शराब धंधे (Illegal liquor business) को चोरी-छिपी जमकर चमकाते रहते हैं। ऐसे ही चोरी-छिपे जमकर फल-फूल रहे शराब के गोरख धंधे का छपरा में खुलासा हुआ है। यहां एक खेत में मिट्टी के अंदर से गाजर, आलू और प्याज की तरह कच्ची शराब की बोरियां (Raw wine sacks) बरामद की गईं है।

छपरा (Chhapra) में एक गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस ने रेड मारी थी। मुखबिर की बताई जगह पर पुलिस ने खेत में मिट्टी खुदवाई तो वहां से देखते ही देखते कच्ची शराब की बोरियां मिलनी शुरू हो गईं। इस अजब-गजब कारनामे (Amazing feat) को देखकर पुलिस कर्मियों समेत अन्य लोग भी दंग रह गए। शराब का गोरख धंधा माफियाओं ने खेतों में मिट्टी के अंदर कच्‍ची शराब की विभिन्न बोरियां छिपा कर रखी थीं।

उत्‍पाद विभाग की जानकारी के अनुसार एक गुप्त सूचना के आधार पर छपरा के उमानगर मोहल्‍ले में उत्पाद विभाग व पुलिस ने संयुक्त रूप से मिलकर कार्रवाई की। यहां लंबे समय से अवैध शराब कारोबार के जारी रहने की खबरें मिल रही थीं। जानकारी के अनुसार उमानगर मोहल्‍ले में चल रही कच्ची शराब की विभिन्न भट्ठियों को ध्वस्त कर दिया। आपको बता दें हाल के दिनों में गोपालगंज व मुजफ्फरपुर जिलो में से जहरीली शराब पीकर लोगों की मौतें की खबरें सामने आई थीं। जिसके बाद से बिहार उत्पाद विभाग सक्रिय नजर आ रहा है और पुलिस के साथ मिलकर संदिग्ध जगहों पर लगातार रेड मार रहा है।

Next Story