Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

परिजनों का आरोप, जिम ट्रेनर को डॉक्टर की पत्नी ने दी थी धमकी, मामले का ऑडियो आया सामने

बिहार की राजधानी पटना में जिम ट्रेनर विक्रम सिंह राजपूत की गोली मारकर जान लेने का प्रयास किया गया। वहीं मामले में पुलिस ने भी गहनता से जांच-पड़ताल शुरू कर दी है। संदेश की स्थिति में पुलिस ने तीन लोगों को हिरासत में लिया है। हमले से पहले जिम ट्रेनर को जान से मारने की धमकी देने का ऑडियो सामने आया था।

bihar crime news Gym trainer family accuses doctor wife of threatening for kill him Patna gym trainer Attack case
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहार (Bihar) की राजधानी पटना (Patna) में बीते दिनों जिम ट्रेनर विक्रम सिंह राजपूत (Gym Trainer Vikram Singh Rajput) को 5 गोलियां मारी गई। मामले को लेकर पुलिस (Police) भी गहनता से जांच-पड़ताल में जुटी है। पुलिस ने संदेह के आधार पर तीन युवक हिरासत में लिए हैं। पुलिस तीनों युवकों से पूछताछ कर रही है। वारदात से पहले जिम ट्रेनर को जान से मारने की धमकी (Threats to kill) देने का ऑडियो भी सामने आया था।

जख्मी जिम ट्रेनर की पत्नी समेत परिवार वालों का कहना है कि ऑडियो में धमकी देने वाली महिला खुशबू सिंह है। वह फिजियोथेरेपिस्ट डॉ. राजीव कुमार सिंह की पत्नी है। वहीं परिजनों ने कहा कि अगर ऑडियो रिकॉर्डिंग की आवाज की एफएसल जांच हो जाए तो सच्चाई सामने आ जाएगी। घायल जिम ट्रेनर की पत्नी वर्षा ने आरोप लगाया है कि ऑडियो में मेरे पति को डॉक्टर की पत्नी (wife of doctor) फोन के जरिए गंदी-गंदी गालियां दे रही थीं। इस दौरान मेरे पति को धमकी भी दी गई आकर मार देंगे...।

वहीं सदर एएसपी अमित रंजन ने बताया है कि यह ऑडियो कई महीनों पुराना है। इसके बावजूद जिम ट्रेनर के मोबाइल और ऑडियो की जांच हो रही है। ट्रेनर का उपचार पीएमसीएच में चल रहा है और स्थिति खतरे से बाहर है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक वायरल ऑडियो करीब नौ सेकेंड का है। जिसमें धमकी देते हुए एक महिला गंदी-गंदी गालियां भी दे रही हैं। जिम ट्रेनर की मां को भी अपशब्द बोले गए हैं। जख्मी जिम ट्रेनर विक्रम सिंह का कहना है कि गली में कैमरा है, सब दिख जाएगा कि किस वक्त रात को आई है। वहीं विक्रम की मां कहती है कि रात में आती थी तू। कार में हमारे बेटा को लेकर जाने के लिए। अब दिखावटी आंसू बहा रही है। जिम ट्रेनर की पत्नी वर्षा सिंह का आरोप है लगातार मिल रही धमकियों से पूरा परिवार दुखी था। धमकी देने वाली महिला हमेशा पटना मार्केट के द जिम सिटी पहुंच जाया करती थी व विक्रम की छवि धूमिल करने का प्रयास करती थी।

पहले भी हुआ था हमला

गोलीबारी से पहले भी जिम ट्रेनर विक्रम पर ब्लेड से 3 महीनों पहले भी जानलेवा हमला हुआ था। उस दौरान विक्रम कंधे पर गहरे जख्म हुए थे।

फुटेज में नजर आ तीन हमलावर

सदर एएसपी अमित रंजन ने कहा कि मौके के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज की पड़ताल की गई है। एक कैमरा की फुटेज में 3 हमलावर नजर आए हैं। ये तीनों एक ही मोटरसाइकिल पर सवार थे। चालक हेलमेट पहने हुए था। पर घटनास्थल से कैमरा दूर होने के कारण हमलावरों की फोटो साफ नहीं दिखाई दे रही है। वैसे वारदात के बाद हमलावर बाइपास की ओर भाग गये। वहीं रविवार को पुलिस ने पीएमसीएच में इलाज करा रहे जिम ट्रेनर से गहनता पूछताछ की।

डॉक्टर दंपती को मिले सजा: पीड़ित पत्नी

पीड़ित पत्नी वर्षा ने आरोप लगाया है कि डॉक्टर दंपती ने ही उसे पति पर जानलेवा हमला कराया है। पुलिस दबाव में कार्य कर रही है। साथ ही शूटरों को भी कड़ी सजा मिले। जिसके बाद परिवार व मेरे घायल पति को न्याय मिले सकेगा।

हमले से हमरा कोई मतलब नहीं: डॉक्टर

फिजियोथेरेपिस्ट डॉक्टर राजीव कुमार सिंह ने कहा कि उनकी पत्नी और उनका जिम ट्रेनर पर हुए हमले से कोई मतलब नहीं है। आरोप गलत हैं। एलबम बनाने के एवज में जिम ट्रेनर ने उनसे 60 हजार रुपये लिए थे। रुपये नहीं लौटने पर फोन पर विवाद हुआ था। इसके बाद उसने 40 हजार मुझे दिए और बाकी के 20 हजार रुपये मेरी पत्नी के खाते में भेज दिए थे। यह वाक्या मई महीने का है। इसके बाद से हमारी उससे कोई बातचीत नहीं हुई।

मामले पर एसएसपी उपेंद्र शर्मा ने बताया कि जिम ट्रेनर हमला मामले की हर एंगल से पुलिस जांच कर रही है। मामले में वैज्ञानिक जांच का भी सहयोग लिया जा रहा है। मामले में जो भी दोषी होगा, वह बच नहीं सकेगा। वहीं मामले की तफ्तीश पूरी होने तक डॉक्टर दंपती को पटना में ही रहना होगा। पुख्ता सबूत मिलने पर असली आरोपी को अरेस्ट कर जेल भेज दिया जाएगा।

Next Story