Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जहरीली शराब से मौत मामला, तेजस्वी यादव बोले-इन चीखों का गड़बड़ वाली सरकार पर फर्क नहीं पड़ेगा, देंखे वीडियो

बिहार के गोपालगंज और बेतिया में जहरीली शराब पीने की वजह से कई लोगों की मौत हो गई है। वहीं जहरीली शराब से हुई मौतों पर राजद नेता तेजस्वी यादव ने बिहार सरकार के खिलाफ हमला बोला है।

25 people died due to spurious liquor in Bihar RJD leader Tejashwi Yadav targeted CM Nitish Kumar video viral
X

वायरल वीडियो

बिहार (Bihar) में गोपालगंज (Gopalgang) और बेतिया (Bettiah) में जहरीली शराब पीने की वजह से कई लोगों की मौत (death by alcohol) हो जाने का मामला सामने सामने आया है। वहीं जहरीली शराब से हुईं इन मौतों पर अब बिहार की सियासत भी गर्म हो गई है। नेता प्रतिपक्ष एवं राजद नेता तेजस्वी यादव (RJD leader Tejashwi Yadav) ने जहरीली शराब से मौत मामले पर बिहार मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) के खिलाफ निसाना साधा है। तेजस्वी यादव ने कहा कि बिहार विधानसभा उपचुनाव में सीएम नीतीश कुमार की शह पर उनके मंत्रियों व पुलिस प्रशासन द्वारा खुद वोटर्स के बीच शराब बांटी गई।

मामले को लेकर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने गुरुवार को पीड़ित परिजों की चीख पुकार वाला वीडियो भी जारी किया। जिसे पर तेजस्वी ने लिखा कि इन चीख़ों का गड़बड़ DNA वाली NDA सरकार और तीन नंबरिया पार्टी के मुखिया पर कुछ फ़र्क नहीं पड़ता। जहरीली शराब से बिहार में दिवाली के दिन सरकार द्वारा 35 से अधिक लोग मारे गए। वहीं लिख कि हां ! किसी की सनक से बिहार में कागजों पर शराबबंदी है अन्यथा खुली छूट है, क्योंकि ब्लैक में मौज और लूट है।

इससे पहले तेजस्वी यादव ने पूछा कि किस बात की शराबबंदी? इन मौतों के लिए जिम्मेवार कौन है? बिहार में 20 हजार करोड़ की अवैध तस्करी और समांतर ब्लैक इकॉनमी के सरग़ना सामने आकर इसका जवाब दें। ये सनसनीखेज आरोप भी जड़ा कि ज्यादातर शवों को पुलिस बिना पोस्ट्मॉर्टम जला रही है।

आपको बता दें दोनों जिलों में गुरुवार की दोपहर तक 25 लोगों की जहरीली शराब पीने की वजह से मौत हो चुकी थी। गोपालगंज में जहरीली शराब पीने की वजह से हुईं मौतों का आंकड़ा 17 पर पहुंच गया है। वहीं बेतिया में आठ लोगों की मौत हुई है। ये बातें सामने हैं कि जहरीली शराब पीने की इससे भी ज्यादा लोगों की मौतें हुई हैं।

तेजस्वी ने ट्वीट कर कहा कि मुजफ्फपुर में पांच दिन पहले जहरीली शराब से 10 लोग मरे थे। बुधवार और गुरुवार को गोपालगंज में 20 लोगों की मौत हो गई। बेतिया में भी गुरुवार को 13 लोगों की शराब पीने की वजह से मौत हुई है। तेजस्वी ने कहा कि ज्यादातर शवों को पुलिस बिना पोस्ट्मॉर्टम के फूंक रही है। साथ ही सावाल किया कि इन मौतों के लिल जिम्मेवार कौ है। क्या शराबबंदी का बेसुरा ढोल पीटने वाले मुख्यमंत्री सह गृहमंत्री नीतीश कुमार नहीं है?

Next Story