Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कानपुर मुठभेड़: विकास दुबे के फोन की कॉल डिटेल में कुछ पुलिसवालों के नंबर आए सामने

कानपुर में आठ पुलिसकर्मियों पर गोलीबारी कर यूपी पुलिस का मोस्ट वांटेड चेहरा बने विकास दुबे की तलाश में उत्तर प्रदेश पुलिस की कई टीम रात भर छापेमारी करती रही पर कहीं से भी विकास दुबे का कोई सुराग हाथ नहीं लगा। वहीं एक और बेहद हैरान करने वाला तथ्य सामने आया है कि पिछले 24 घंटे में विकास दुबे के फोन की कॉल डिटेल में कुछ पुलिसवालों के नंबर भी सामने आए हैं।

Vikas Dubey Encounter: एसटीएफ के पीछे 12 घंटे तक थी मीडिया, विकास दुबे के एनकाउंटर से ठीक पहले क्यों हुआ कैमरा बंद
X
मोस्ट वांटेड विकास दुबे

जानकारी के मुताबिक पुलिस की जांच में पता चला है कि चौबेपुर थाने के ही एक दारोगा ने दुबे को पुलिस के आने की जानकारी पहले ही दे दी थी। इस वक्त पुलिस के शक के घेरे में एक दारोगा, एक सिपाही और एक होमगार्ड है। तीनों से पुलिस कॉल डिटेल के आधार पर पूछताछ कर रही है।

शुक्रवार रात पुलिस की करीब बीस टीमों ने अलग अलग जिलों में विकास दुबे की तलाश में उसके रिश्तेदार और परिचितों के यहां दबिश दी। पुलिस ने इस मामले में 12 और लोगों को हिरासत में लिया है। इनसे पुलिस पूछताछ कर रही है। पुलिस ने ये लोग मोबाइल कॉल डिटेल के आधार पर हिरासत में लिए हैं।

बता दें कानपुर से सटे बिकरु गांव में शुक्रवार को तड़के पुलिस, विकास दुबे गिरोह के बीच हुए खूनी मुठभेड़ में आठ पुलिसकर्मी शहीद हो गए थे। मुठभेड़ में गिरोह के दो हमलावर भी मारे गए हैं। दुबे के खिलाफ कानपुर के थाने में 60 एफआईआर दर्ज है। शुक्रवार को एक मामले की जांच के लिए कानपुर पुलिस बिकरु गांव गई थी। इसी दौरान विकास दुबे के गुर्गों ने जेसीबी मशीन लगाकर पुलिस का रास्ता बंद कर दिया। जैसे ही पुलिसकर्मी आगे बढ़े तो विकास के गुर्गों ने तीन ओर से उन पर गोलीबारी शुरू कर दी।

Next Story
Top