Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

वित्त, वाणिज्यिक कर मंत्री ने चेम्बर ऑफ कॉमर्स की मांग को किया स्वीकार, जानिए क्या थीं मांग

भोपाल चेम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज का प्रतिनिधि मंडल ने पुन: वित्त एवं वाणिज्यिक कर मंत्री से मुलाकात की और कर निर्धारण वर्ष 2017-18 के काल अवरोधित प्रकरण की तिथि 31 मई 2022 से बढ़ाकर 31 अगस्त 2022 करने का अनुरोध किया। जिसे वाणिज्यक कर मंत्री जगदीश देवड़ा ने द्वारा स्वीकार करते हुए इस संबंध में शीघ्र अधिसूचना जारी करने की बात कही।

वित्त, वाणिज्यिक कर मंत्री ने चेम्बर ऑफ कॉमर्स की मांग को किया स्वीकार,    जानिए क्या थीं मांग
X

भोपाल। भोपाल चेम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज का प्रतिनिधि मंडल ने पुन: वित्त एवं वाणिज्यिक कर मंत्री से मुलाकात की और कर निर्धारण वर्ष 2017-18 के काल अवरोधित प्रकरण की तिथि 31 मई 2022 से बढ़ाकर 31 अगस्त 2022 करने का अनुरोध किया। जिसे वाणिज्यक कर मंत्री जगदीश देवड़ा ने द्वारा स्वीकार करते हुए इस संबंध में शीघ्र अधिसूचना जारी करने की बात कही। मिलने वालों में बीसीसीआई के अध्यक्ष के तेजकुलपाल सिंह पाली, कमल पंजवानी और जीएसटी सलाहकार एडवोकेट मुनिंद्र वेद शामिल थे। पाली ने व्यापारियों और कर सलाहकारों से अपील की है कि इस अवधि में प्रकरणों की सुनवाई शीघ्र पूर्ण करें। क्योंकि भोपाल चेम्बर ऑफ कॉमर्स के निवेदन पर मध्यप्रदेश सरकार द्वारा प्रदाय किया गया यह अंतिम अवसर है।

गौरतलब है कि व्यापारियों की शीर्ष संस्था भोपाल चेंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री के अध्यक्ष तेजकुलपाल सिंह पाली व्यापारियों की हितों को लेकर बीते दिनों वाणिज्यिक कर, वेट कर, राज्य कर और संबंधित कार्यालयिन समस्याओं एवं वेट कर निर्धारण वर्ष 2017-18 की असेसमेंट के अंतिम तिथि 31 मई 2022 को लगभग 6 माह बढ़ाने के लिए निवेदन किया था। इस दरमियान तेजकुलपाल सिंह पाली ने सलाहकार संदीप गोधा, जीएसटी सलाहकार मुनिंद्र वैद्य, कार्यकारिणी सदस्य कमल पंजवानी ने अंतिम तिथि बढ़ाने का मुख्य कारण भी बताया था।

और पढ़ें
Next Story