Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हिमाचल प्रदेश के सभी जिलों में अब 10 से 5 खुलेंगे सभी राशन डिपो

हिमाचल में राशन डिपुओं के खुलने की समयसारिणी बदलाव हुआ है। प्रदेश में अब राशन डिपुओ के खुोलने का समय सुबह 10 से शाम पांच बजे तक कर दी गई है। सभी गोदामों में राशन तोलने की मशीनें लगाई जाएंगी।

हिमाचल में अब 10 से 5 खुलेंगे सभी राशन डिपुओं
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हिमाचल में राशन डिपुओं के खुलने की समयसारिणी बदलाव हुआ है। प्रदेश में अब राशन डिपुओ के खुोलने का समय सुबह 10 से शाम पांच बजे तक कर दी गई है। सभी गोदामों में राशन तोलने की मशीनें लगाई जाएंगी। ये शब्द खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले मंत्री राजेंद्र गर्ग ने शनिवार को हमीरपुर में कही। श्री गर्ग ने कहा कि हालांकि, अभी गोदामों से सारा राशन तोलकर ही डिपुओं में भेजना व्यवहारिक नहीं है, लेकिन डिपो संचालकों की मांग पर गोदामों में औचक निरीक्षण एवं सैंपलिंग पर जोर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि आयकर अदा करने वाले उपभोक्ताओं को प्रदेश सरकार खाद्य सामग्री पर सबसिडी नहीं देगी, लेकिन ऐसे उपभोक्ताओं को डिपुओं के माध्यम से उसी कीमत पर खाद्य सामग्री उपलब्ध करवाएगी, जिस कीमत पर सरकार खरीदेगी।

राजेंद्र गर्ग शनिवार को हमीरपुर के निकट झनियारी में प्रदेश डिपो संचालक समिति के सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने बताया कि उपभोक्ताओं को केंद्र सरकार की ओर से आटे और चावल पर मिलने वाली सबसिडी जारी रहेगी। उन्होंने कहा कि डिपो संचालकों तथा सहकारी सभाओं का आम आदमी से सीधा नाता है और प्रदेश सरकार इनके हितों की रक्षा एवं समस्याओं के समाधान के लिए उचित निर्णय लेगी। सम्मेलन में स्थानीय विधायक नरेंद्र ठाकुर, प्रदेश डिपो संचालक समिति के अध्यक्ष अशोक कुमार कवि, महासचिव रामपाल और चंपा देवी ने भी अपने विचार रखे।

इस अवसर पर हमीरपुर भाजपा मंडल अध्यक्ष रमेश शर्मा, महामंत्री एवं बीडीसी उपाध्यक्ष सुरेश सोनी, भाजपा मंडल उपाध्यक्ष राजेश कुमार और प्रदेश डिपो संचालक समिति के पदाधिकारी एवं सदस्य भी उपस्थित रहे। सहकारी सभाओं की चर्चा करते हुए राजेंद्र गर्ग ने कहा कि ग्रामीण आर्थिकी में इन सभाओं का बहुत ही महत्त्वपूर्ण योगदान है, लेकिन कुछ विसंगतियों के कारण सहकारी सभाओं से आम लोगों का विश्वास उठ रहा है। प्रदेश सरकार ने इसका कड़ा संज्ञान लिया है और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

Next Story