Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हिमाचल के किस स्कूल में कितने पहुंचे छात्र, जानने के लिए यहां पढ़े

हिमाचल में कोरोना के बीच प्रदेश सरकार द्वारा स्कूल खोलने के बाद भी ज्यादातर अभिभावक अपने बच्चों को स्कूल भेजने को तैयार नही हैं। कुछ चुनिंदा अभिभावकों ने ही अपने बच्चों को स्कूल भेजने की लिखित में सहमति दी है।

हिमाचल के किस स्कूल में कितने पहुंचे छात्र, जानने के लिए यहां पढ़े
X

फाइल फोटो

हिमाचल में कोरोना के बीच प्रदेश सरकार द्वारा स्कूल खोलने के बाद भी ज्यादातर अभिभावक अपने बच्चों को स्कूल भेजने को तैयार नही हैं। कुछ चुनिंदा अभिभावकों ने ही अपने बच्चों को स्कूल भेजने की लिखित में सहमति दी है। ऊना कालेज में भी बीबीए व बीसीए के कुछ छात्र ही पहुंचे थे। वहीं, टक्का स्कूल में सोमवार को करीब 30 बच्चे ही अभिभावकों से अनुमति पत्र लेकर स्कूल पहुंचे। राजकीय बाल विद्यालय ऊना में 25, गर्ल्स स्कूल ऊना में छह और वशिष्ठ पब्लिक स्कूल बहडाला व रॉकफोर्ड में 50-50 बच्चे ही पहुंचे।

उधर, सोलन जिला के मॉल रोड पर स्थित गल्र्स स्कूल में भी कुछ ऐसा ही हाल देखने को मिला। नौवीं से जमा दो कक्षा तक खोले गए स्कूल के बावजूद कम ही बच्चे स्कूल पहुंचे। कक्षा में पहुंचे अध्यापकों ने भी पूरी एहतियात के साथ बच्चों को पढ़ाया। उधर, नगरोटा सूरियां में बच्चे स्कूल में मास्क पहनकर आए।

इस दौरान राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला नगरोटा सूरियां में 26 बच्चे पहुंचे। वहीं, बरियाल स्कूल में 15, अमलेला 11, घाड़ जरोट में 72, सकरी में 30, सपेल में आठ और हरसर स्कूल में 62 बच्चे पहुंचे। वहीं, सिरमौर जिला के वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला नौहराधार के स्कूलों में रौनक देखने को मिली। इस दौरान ग्रामीण क्षेत्रों में बच्चों की उपस्थिति 50 फीसदी रही है। यहां बोर्ड कक्षाओं के चलते अविभावक अपने बच्चों को स्कूल भेजना उचित समझ रहे हैं।

Next Story