Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कोरोना पॉजिटिव महिला की हो गई थी मौत, डाक्टरों ने बच्चे को बचाया

कोरोना पॉजिटिव महिला की मौत के बाद आईजीएमसी शिमला में दाखिल उसके दुधमुंहे साढ़े सात माह के बच्चे को चिकित्सकों ने नई जिंदगी दी है। महिला कोरोना पॉजिटिव थी और प्रसव के दौरान उसकी मौत हो गई थी।

कोरोना पॉजिटिव महिला की हो गई थी मौत, डाक्टरों ने बच्चे को बचाया
X
आईजीएमसी अस्पताल शिमला।

कोरोना पॉजिटिव महिला की मौत के बाद आईजीएमसी शिमला में दाखिल उसके दुधमुंहे साढ़े सात माह के बच्चे को चिकित्सकों ने नई जिंदगी दी है। महिला कोरोना पॉजिटिव थी और प्रसव के दौरान उसकी मौत हो गई थी। साढ़े सात माह के बच्चे को ऑपरेशन के जरिये डॉक्टरों ने निकाला था और आईजीएमसी में ही दाखिल किया था। 17 दिन आईजीएमसी में बच्चे का उपचार चला और शनिवार को स्वस्थ होने के बाद उसे छुट्टी दे दी गई। जन्म के वक्त बच्चे का वजन 1200 ग्राम था।

17 दिन चले उपचार के बाद बच्चे का वजन बढ़कर 1700 ग्राम हो गया। जांच के बाद अब चिकित्सकों ने बच्चे को पिता के हवाले कर घर भेज दिया है। चिकित्सकों के मुताबिक परवाणू फैक्ट्री में काम करने वाली एक प्रसूता महिला ने सोलन एमएमयू अस्पताल में साढ़े सात माह के एक प्रीमैच्योर शिशु को जन्म दिया था। महिला कोरोना पॉजिटिव थी और अस्पताल में ऑपरेशन के बाद उसकी मौत हो गई थी। सोलन के डॉक्टरों ने बच्चे को आईजीएमसी रेफर किया। नौ सितंबर की सुबह करीब 3 बजे नवजात को आईजीएमसी में लाकर दाखिल किया गया।



Next Story