Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

महिला गुजरात में थी और उसके नाम से हिसार में हो गई रजिस्ट्री

पीड़िता ने एसपी को दी 8 साल पहले हुई धोखाधड़ी की शिकायत, बहन के स्थान पर दूसरी महिला खड़ी कर करवा दी रजिस्ट्री।

केजरीवाल सरकार द्वारा किए गए 26,000 करोड़ के घोटाले के खिलाफ भाजपा ने बनाई विशाल मानव श्रृंखला
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हिसार। प्रदेश सरकार के भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने के तमाम प्रयासों के बावजूद हिसार में एक रजिस्ट्री में धांधली का आरोप लगा है। हद वाली बात तो यह है कि गुजरात में बैठी महिला के नाम से हिसार में रजिस्ट्री हो गई। जबकि बहबलपुर की बेटी ओर तलवंडी राणा की बहु 72 वर्षीय धन्नो महिला गुजरात में एक शादी के कार्यक्रम में भाग ले रही थी। इस मामले में गांव बहबलपुर के नंबरदार जगमाल सिंह से लेकर तात्कालीन तहसीलदार के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए महिला ने हिसार पुलिस को शिकायत दी है।

फर्जी तौर पर रजिस्ट्री में खड़ी महिला से पूछताछ के आधार पर पुलिस ने मामले की तह तक जाने के लिए हिसार तहसील में वर्ष 2012-13 में संदिग्ध रजिस्ट्री का नंबर का पूर्ण रिकार्ड तलब किया है। इसमें रजिस्ट्री में लगे दस्तावजों, गवाहों तथा अधिकारियों की पहचान की जा रही है। बृहस्पतिवार सुबह पुलिस अधीक्षक कार्यालय में दी शिकायत में महिला का दावा है कि जिस समय हिसार में रजिस्ट्री हुई तो वो गुजरात में थी। महिला के अनुसार वह अपने बड़े बेटे के साथ लंबे समय से गुजरात में ही रह रही थी। कुछ समय पूर्व जब में गुजरात से वापस आई तो मुझे पता चला कि उसके भतीजों ने उसके स्थान पर गांव बहबलपुर निवासी महिला जमना पत्नी नरसी को खड़ी कर तथा उसके अंगूठे लगवाकर मेरी तथा मेरी बड़ी बहन की जमीन हड़प ली।

महिला के अनुसार धोखाधड़ी में गांव बहबलपुर का नंबरदार एवं उसका एक और सहयोगी गवाह, तत्कालीन तहसीलदार व उसके भतीजे सोनू, रामगोपाल उसका भाई सतीश तथा एक महिला जमना देवी शामिल हैं। बड़ी बात यह है कि 54 कनाल 12 मरले की इस रजिस्ट्री में जहां इस धन्नो के स्थान पर दूसरी महिला को दर्शाया गया है, वहीं दूसरी बहन को मृत बेऔलादी दर्शा कर उसे जमीनी हक से बेदखल दिखलाया गया है, जबकि वास्तव में उसका भरा पूरा परिवार है।

Next Story