Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ओपी चौटाला बोले : जनता के हितों के लिए देवीलाल ने भी ठुकराए थे पद

इनेलो सुप्रीमो ने कहा कि देश प्रदेश के हालात को देखकर कहा जा सकता है कि मध्यावधि चुनाव संभव हैं। सरकार की नीयत ऐसी है कि लोगों को आपस में लड़वाया जाए और उनका आपसी भाईचारा खत्म करवाया जाए।

ओपी चौटाला बोले : जनता के हितों के लिए देवीलाल ने भी ठुकराए थे पद
X

पत्रकारों से बातचीत करते पूर्व सीएम ओमप्रकाश चौटाला।

हरिभूमि न्यूज. सिरसा

इनेलो सुप्रीमो एवं पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला ने शुक्रवार को डबवाली रोड स्थित इनेलो जिला कार्यालय में पार्टी कार्यकर्ताओं व पदाधिकारियों से मुलाकात कर उनका कुशलक्षेम जाना। इस दौरान मीडिया कर्मियों से रूबरू होते हुए इनेलो सुप्रीमो ने कहा कि देश प्रदेश के हालात को देखकर कहा जा सकता है कि मध्यावधि चुनाव संभव हैं। उन्होंने कहा कि सरकार की नीयत ऐसी है कि लोगों को आपस में लड़वाया जाए और उनका आपसी भाईचारा खत्म करवाया जाए मगर हरियाणा पंजाब के किसानों ने आपसी भाईचारे को मजबूत बनाते हुए एक दूसरे के निकट होकर आपसी कटुता को समाप्त करते हुए सरकार की मंशा पर चपत मारी।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार ने अंग्रेजों की नीति अपनाते हुए किसानों में फूट डालने की कोशिश की थी मगर हरियाणा पंजाब के किसानों ने आंदोलन को मजबूती देकर सरकार की तमाम योजनाओं पर पानी फेर दिया। उन्होंने कहा कि यदि ये तीनों कृषि कानून पूरी तरह से अमल में आ गए तो देश का किसान अपने ही खेत में मजदूर बन जाएगा। अभय सिंह चौटाला द्वारा किसान आंदोलन के समर्थन में इस्तीफे के सवाल पर पूर्व सीएम ने कहा कि अभय सिंह चौटाला द्वारा अपने पद से इस्तीफा देना कोई नया नहीं है क्योंकि जनता और किसानों के हितों के लिए चौ. देवीलाल ने सदैव बतौर विधायक, सांसद और मंत्री के पदों को ठुकराया है। उन्होंने कहा कि उन्हें पूर्ण भरोसा है कि ऐलनाबाद विधानसभा क्षेत्र में होने वाले उपचुनाव में क्षेत्र के किसान और ग्रामीण उचित निर्णय लेते हुए इनेलो प्रत्याशी को ही रिकॉर्ड मतों से विजयी बनाएंगे। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने कभी भी लोकतंत्र को मजबूत बनाने की दिशा में कोई कार्य नहीं किया और न ही जनता के हितों के लिए कोई आंदोलन किया है, इसके विपरीत भाजपा ने किसानों के आंदोलन को कुचलने के लिए ओछे हथकंडे अपनाए हैं।


Next Story