Logo
Vikat Sankashti Chaturthi 2024: सनातन धर्म में भगवान गणेश जी सभी देवी-देवताओं में प्रथम पूज्य माने जाते है। इस वर्ष विकट संकष्टी चतुर्थी 27 अप्रैल को मनाई जायेगी, जोकि गणपति बप्पा को समर्पित दिन हैं। इस दिन व्रत रखने से शुभ कार्यों में सफलता मिलती है।

Vikat Sankashti Chaturthi 2024: सनातन धर्म में भगवान गणेश जी सभी देवी-देवताओं में प्रथम पूज्य माने जाते है। इस वर्ष विकट संकष्टी चतुर्थी 27 अप्रैल को मनाई जायेगी, जोकि गणपति बप्पा को समर्पित दिन हैं। हिन्दू पंचांग के अनुसार वैशाख महीने के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि पर विकट संकष्टी चतुर्थी व्रत रखने का विधान हैं। इस दिन व्रत रखने से शुभ कार्यों में सफलता मिलती है और अच्छे परिणाम प्राप्त होते है। जानते है कब है विकट संकष्टी चतुर्थी। 

वैशाख महीने के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि इस बार 27 अप्रैल को हैं। इसका शुभ मुहूर्त सुबह 08 बजकर 17 मिनट से लेकर अगले दिन 28 अप्रैल 2024 को सुबह 08 बजकर 21 मिनट तक रहेगा। इस दिन गणपति को प्रसन्न करने के लिए गणेश चालीसा और आरती करें। इससे जीवन में सुख-शांति बनी रहेगी। 

विकट संकष्टी चतुर्थी पूजा शुभ मुहूर्त 

विकट संकष्टी चतुर्थी पर आप गणपति पूजा सुबह 07 बजकर 22 मिनट से लेकर सुबह 09 बजकर 01 मिनट तक कर सकते है। धार्मिक मान्यता है कि इस तिथि पर गणेश जी की पूजा-अर्चना करने से साधकों के सभी विघ्नों का नाश होता है। संकष्टी चतुर्थी पर गणपति जी को मोदक चढ़ाने से वे प्रसन्न होते है। 

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं व जानकारियों पर आधारित है। Hari Bhoomi इसकी पुष्टि नहीं करता है।)

jindal steel Haryana Ad hbm ad
5379487