Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Lakhimpur Kheri Violence Case: यूपी प्रशासन ने बॉर्डर पर रोका हरियाणा कांग्रेस का रोष मार्च, कई घंटे हरिद्वार हाईवे रहा बंद

हरियाणा के कांग्रेस प्रभारी विवेक बंसल, कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कुमारी शैलजा, नेता विपक्षी व पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र हुड्डा समेत कांग्रेस के दर्जनों विधायक व पूर्व विधायक, पूर्व मंत्री, कांग्रेस संगठन के पदाधिकारी पानीपत के कांग्रेस भवन पर पहुंचे और यहां से लखीमपुर खीरी कांड के विरोध में कांग्रेसियों का रोष मार्च शुरू हुआ।

Lakhimpur Kheri Violence Case: यूपी प्रशासन ने बॉर्डर पर रोका हरियाणा कांग्रेस का रोष मार्च, कई घंटे हरिद्वार हाईवे रहा बंद
X

पानीपत में हरिद्वार हाईवे पर उत्तर प्रदेश की ओर बढता कांग्रेसियों का रोष मार्च

पानीपत। उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी हिंसा मामले को लेकर रोष मार्च कर रहे हरियाणा के कांग्रेसियों के काफिले को उत्तर प्रदेश सरकार के आदेश पर शामली जिला प्रशासन ने पानीपत जिले में यूपी की सीमा पर रोक दिया। वहीं यूपी प्रशासन को हरियाणा के कांग्रेसियों के रोष मार्च की सूचना पहले ही मिल गई थी, इसके चलते वीरवार की सुबह उत्तर प्रदेश के पानीपत से लगते शामली जिले की सीमा पर यूपी पुलिस व प्रशासन ने बेरीकेट लगाकर हरिद्वार हाईवे पर आवागमन पूरी तरह बंद कर दिया। यातायात का आवागमन बंद होने से हरिद्वार हाईवे पर पानीपत व शामली के बीच आवागमन कर रहे लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। वहीं उत्तर प्रदेश में पुलिस ने पानीपत की ओर जाने वाले यातायात को करनाल हाईवे से और पानीपत पुलिस ने वाया करनाल सूचारू किया, अनेक वाहन बडौली यमुना पुल से भी गुजरे। हालांकि यूपी पुलिस करनाल की ओर से शामली जिले में आने वाले वाहनों की गहन जांच में जुटी रही।

सुबह करीब 11 बजे हरियाणा के कांग्रेस प्रभारी विवेक बंसल, कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कुमारी शैलजा, नेता विपक्षी व पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र हुड्डा समेत कांग्रेस के दर्जनों विधायक व पूर्व विधायक, पूर्व मंत्री, कांग्रेस संगठन के पदाधिकारी पानीपत के कांग्रेस भवन पर पहुंचे और यहां से लखीमपुर खीरी कांड के विरोध में कांग्रेसियों का रोष मार्च शुरू हुआ। वहीं रोष मार्च के मद्देनजर पानीपत प्रशासन ने बड़ी संख्या में पुलिस बल को हरिद्वार हाईवे पर नियुक्त किया था। जबकि कांग्रेस के रोष मार्च का जगह जगह कांग्रेसियों ने जोरदार स्वागत किया और भाजपा के खिलाफ रोष प्रदर्शन किया।


पानीपत से लगी उत्तर प्रदेश की सीमा पर खडे शामली जिला के प्रशासनिक व पुलिस अधिकारी

बर्बरता की हदें पार कर किसानों को कुचला गया : विवेक बंसल

कांग्रेसियों का रोष मार्च जैसे ही यमुना नदी के पुल पर पहुंचा तो उत्तर प्रदेश के शामली जिला की सीमा पर हरियाणा के कांग्रेसियों के रोष मार्च को रोकने के लिए यूपी पुलिस व प्रशासन ने बेरिकेट लगा रखे थे। वहीं शामली की जिला मजिस्ट्रेट जसजीत कौर, पुलिस अधीक्षक सुकृति माधव, एएसपी ओपी सिंह, सीओ जितेंद्र कुमार व प्रदीप कुमार, एसडीएम कैराना उद्भव त्रिपाठी, कोतवाल कैराना प्रेमवीर व पीएसी की एक कंपनी यूपी बॉर्डर पर तैनात रही। हालांकि कांग्रेसियों के रोष प्रदर्शन के यूपी की सीमा पर पहुंचने से पहले डीएम शामली जसजीत कौर के निर्देश पर बेरिकेट हटा कर यातायात का आवागमन भी करवाया गया। लेकिन जैसे ही पानीपत से कांग्र्रेसियों का काफिला यूपी के लिए रवाना हुआ तो शामली प्रशासन ने यूपी की सीमा को सील कर दिया। यूपी की सीमा सील किए जाने पर कांग्रेसियों का रोष मार्च एक पेट्रोल पंप पर रूक गया और यहां मीडिया से बातचीत में हरियाणा कांग्रेस प्रभारी विवेक बंसल ने कहा कि लखीमपुर खीरी में बर्बरता की हदें पार कर किसानों को कुचला गया, ताकि फिर भविष्य में किसान भाजपा सरकार की नीतियों का विरोध न कर सके।

Next Story