Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस : हॉकी और एथलीट में बेटियों ने देश और विदेश में बनाई अलग पहचान

महिला हॉकी खेल में पिछले कई वर्षों से बैजलपुर की टीम जिले का प्रतिनिधित्व करती आई है। भारतीय जूनियर एवं सीनियर महिला हॉकी व एथलीट खेल में छोटे से गांव की पहचान देश के मानचित्र पर बनाई है। इसको लेकर गांव के लोगों को अपनी बेटियों पर नाज हैं।

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस : हॉकी और एथलीट में बेटियों ने देश और विदेश में बनाई अलग पहचान
X

एथलीट बेटी पूजा ओला, हॉकी खिलाड़ी सुमिता नैन, पूजा जन्धारा। 

दलबीर सिंह: भूना

गांव बैजलपुर की बेटियों ने खेल प्रतिभा के दम पर भारतीय जूनियर एवं सीनियर महिला हॉकी व एथलीट खेल में छोटे से गांव की पहचान देश के मानचित्र पर बनाई है। इसको लेकर गांव के लोगों को अपनी बेटियों पर नाज हैं। हालांकि महिला हॉकी खेल में पिछले कई वर्षों से बैजलपुर की टीम जिले का प्रतिनिधित्व करती आई है। खेलों में देश की बेटियां जून माह में प्रस्तावित वर्ल्ड चैम्पियनशिप में भाग लेगी और इनका अपनी प्रतिभा का उत्कृष्ट प्रदर्शन करके और पसीना बहाकर देश के लिए गोल्ड मेडल जीत कर लाना ही एकमात्र लक्ष्य रखा हुआ है।

भारतीय जूनियर हॉकी खेल में पिंकी पुत्री सत्यवान, पूजा पुत्री बीर सिंह, संजना पुत्री वजीर सिंह व सीनियर वर्ग में सुमिता नैन, ज्योति बिढासर, रजनी व एथलीट में पूजा ओला शामिल है। जूनियर हॉकी खिलाड़ी पूजा जन्धारा, पिंकी तथा संजना ने राष्ट्रीय स्तर पर कई मेडल जीतकर इंडिया टीम में अपनी जगह बनाई है, जो बैंगलुरु में प्रशिक्षण ले रही है। पूजा जन्धारा ने रांची, छत्तीसगढ़, अमृतसर, मुक्तसर, लुधियाना, कुरुक्षेत्र आदि में गोल्ड मेडलिस्ट बनने पर इंडिया कैंप के लिए चयन हुआ था। वहीं पिंकी, ज्योति बिढासर, रजनी, अल्का व संजना 3-3 मेडल राष्ट्रीय स्तर पर हासिल कर चुकी है और अब कैंप में प्रशिक्षण ले रही है।

एथलीट पूजा ओला ने कई मेडल जीते

एथलीट बेटी पूजा ओला ने ब्लॉक व जिला तथा राज्य स्तर पर कई प्रतियोगिताओं में प्रतिभा के बल पर मेडल जीतकर अपने हुनर को आगे बढ़ाया। एथलीट खिलाड़ी पूजा ओला ने वर्ष 2018-19 में वडोदरा में हुई 15वीं नेशनल यूथ एथलीट चैम्पियनशिप में 1500 मीटर दौड़ में गोल्ड मेडल जीता। रांची में हुई 34वीं जूनियर नेशनल एथलीट चैम्पियनशिप में 1500 मीटर में सिल्वर मेडल, 600 मीटर में ब्रांज, नई दिल्ली में हुई 64वीं नेशनल स्कूल गेम्स में 800 मीटर में गोल्ड मेडल, पुणे में 2019 में हुई खेलो इंडिया यूथ गेम्स में 700 में गोल्ड मेडल, रायपुर में हुई 16वीं नेशनल यूथ एथलीट चैम्पियनशिप में 800 मीटर में सिल्वर, हांगकांग में हुई थर्ड एशियन यूथ एथलीट चैम्पियनशिप 800 मीटर में सिल्वर मेडल जीता। इसके अलावा पूजा ने केरल में 2019-20 में हुई 17वीं फेडरेशन कप चैम्पियनशिप में 800 मीटर में गोल्ड, 1500 मीटर में गोल्ड मेडल, गुंटुर में हुई 35वीं जूनियर नेशनल एथलीट चैम्पियनशिप में 1500 मीटर में सिल्वर, संगरूर में हुई 65वीं नेशनल स्कूल गेम्स में 1500 मीटर में ब्रांज मेडल जीता।

2019 में महिला जूनियर 9वीं चैम्पियनशिप में सिल्वर जीता

गांव बैजलपुर निवासी हॉकी खिलाड़ी सुमिता नैन शिक्षा के साथ-साथ हॉकी खेलों में भी कई बार लोहा मनवा चुकी है। वर्ष 2016 में इंडिया सब जूनियर 7वीं हॉकी चैम्पियनशिप व इंडिया जूनियर महिला हॉकी चैम्पियनशिप वर्ष 2016 में सुमिता का बेहतर खेल प्रदर्शन रहा था। वर्ष 2017 में एक बस दुर्घटना में सुमिता के दाहिने पैर पर गंभीर चोट आई थी, जिसके कारण वह एक साल ग्राउंड से दूर रही, परंतु सुमिता नैन का हौंसला कमजोर नहीं हुआ और वर्ष 2019 में भारतीय महिला जूनियर 9वीं चैम्पियनशिप में सिल्वर मेडल लेकर अपने खेल का लोहा मनवाया और उसी अचीवमेंट के कारण जूनियर इंडिया कैंप मे जगह बनाई है।

Next Story