Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

48 घंटे में पकड़े पांच आरोपी, जानें क्याें की थी रवि उर्फ गोरखा की हत्या

3 फरवरी को दिनदिहाडे़ कार सवार बदमाशों ने रवि की अंधाधुंध गोलियां मारकर हत्या कर दी थी। मृतक के भाई ने बताया था कि उसके भाई की जेल में व जेल से बाहर भी कई लोगों से रंजिश चल रही थी।

48 घंटे में पकड़े पांच आरोपी, जानें क्याें की थी रवि उर्फ गोरखा की हत्या
X

जानकारी देते पुलिस अधीक्षक हिमांशु गर्ग।

हरिभूमि न्यूज. कुरुक्षेत्र

जिला पुलिस ने सलारपुर रोड पर दिनदिहाड़े गोली मारकर रवि उर्फ गोरखा निवासी अमीन हत्याकांड की गुत्थी सुलझाते हुए पांच आरोपी सौरभ पुत्र भनित, राहुल पुत्र जगदीश, आशीष उर्फ रमन पुत्र कर्ण सिंह वासीयान अमीन व संदीप पुत्र राकेश सिंह व राजु उर्फ संजय पुत्र नन्द किशोर वासीयान दाहोड थाना खतोली जिला मुजफरनगर उतरप्रदेश को गिरफ्तार करके उनके कब्जे से वारदात में प्रयोग की गई कार, हथियार, मोटरसाइकिल तथा मोबाइल फोन बरामद किया है।

बता दे कि गत 3 फरवरी को करीब 11 बजे दिनदिहाडे़ सलारपुर रोड पर कार सवार बदमाशों ने रवि उर्फ गोरखा पुत्र पृथ्वी सिंह वासी अमीन की अंधाधुंध गोलियां मारकर हत्या कर दी थी। मृतक रवि के भाई ने पुलिस को दी शिकायत मेें बताया था कि उसके भाई की जेल में व जेल से बाहर भी कई लोगों से रंजिश चल रही थी। पुलिस ने मामला दर्ज करके जांच के लिए अलग-अलग टीमों का गठन किया। पुलिस अधीक्षक हिमांशु गर्ग ने बताया कि 5 फरवरी को एंटी नारकोटिक सैल के प्रभारी निरीक्षक मनदीप सिंह, उप निरीक्षक बलजीत निमायक उप निरीक्षक राजेश कुमार, हवलदार प्रवीन कुमार, अरविन्द, मेनपाल, सिपाही-1 सतीश कुमार, सिपाही संजीव कुमार, राजेश कुमार, चालक हवलदार विक्रम सिंह की टीम को गुप्त सूचना मिली की रवि उर्फ गोरखा की हत्या करने के आरोपी इस समय समानी पुल से पहले जीटी रोड पर कार सहित खड़े हैं। सूचना के आधार पर पुलिस की टीम ने चार आरोपियों को कार सहित काबू किया। आरोपियों ने अपने नाम सौरभ, राहुल वासीयान अमीन व संदीप व राजु वासीयान दाहोड थाना खतोली जिला मुजफ्फरनगर उत्तर प्रदेश बताया। संदीप से एक देशी कट्टा, सौरभ से एक देशी पिस्टल, एक मोबाइल फोन व कार की एक जाली नम्बर प्लेट, राहुल से एक देशी पिस्टल, एक मोबाइल फोन व एक डोंगल तथा राजु से कट्टा व एक खोल कारतूस व एक मोबाइल फोन बरामद किया।

रंजिश के चलते की रवि की हत्या

आरोपियों ने बताया कि आरोपी सौरभ वासी अमीन के पिता पर रवि उर्फ गोरखा ने जानलेवा हमला किया था। उसके बाद उनकी आपस में रजिश चल रही थी। आरोपी सौरभ के विरुद्ध वर्ष 2018 में असला अधिनियम के तहत केयूके थाना में मामला दर्ज हुआ था। आरोपी सौरभ ने बदला लेने की नियत से राहुल, राजू व संदीप से संपर्क बनाया। सौरभ ने अपनी रिटज कार पर जाली नम्बर प्लेट लगाकर आशीष उर्फ रमन पुत्र करण सिंह वासी अमीन को रवि की रैकी करने के लिए लगाया।

3 फरवरी को मोटरसाईकिल सप्लैंडर पर रवि की कार का पीछा कर रहा था तथा उनको उसकी सूचना दे रहा था। पुलिस ने रमन उर्फ आशीष वासी अमीन को भी गिरफ्तार कर लिया है और उसके कब्जे से वारदात के समय प्रयोग की गई मोटरसाईकिल व मोबाइल फोन भी बरामद किया है। आरोपियों ने बताया कि संदीप के खिलाफ थाना मुजफ्फरनगर में वर्ष 2006 में हत्या का मामला दर्ज है। आरोपी राजु के विरुद्ध थाना खतौली में वर्ष 2016 में हत्या का मामला दर्ज है।


Next Story