Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दुष्यंत चौटाला का कटाक्ष : सोनिया गांधी के खिलाफ अवश्विास लाने की तैयारी में भूपेंद्र हुड‍्डा

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि प्रदेश के आगामी बजट में सरकार कई ऐतिहासिक कदम उठाएगी। उन्होंने कहा कि कोविड-19 महामारी के बावजूद हरियाणा का जीएसटी, आबकारी, खनन, राजस्व कलेक्शन में सकारात्मक प्रदर्शन रहा।

दुष्यंत चौटाला का कटाक्ष : सोनिया गांधी के खिलाफ अवश्विास लाने की तैयारी में भूपेंद्र हुड‍्डा
X

पत्रकारों से बातचीत करते दुष्यंत चौटाला।

उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कांग्रेस नेताओं की आपसी गुटबाजी पर कटाक्ष करते हुए कांग्रेसियों पर जोरदार हमला बोला हैं। पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा द्वारा प्रदेश सरकार के खिलाफ अवश्विास प्रस्ताव लाने के सवाल के जवाब में दुष्यंत चौटाला ने कहा कि कांग्रेसी पहले अपनी पार्टी में तो वश्विास बना लें। उन्होंने कहा कि आज कांग्रेस के हालात ऐसे है कि थोड़े दिनों में भूपेंद्र हुड्डा हरियाणा सरकार के खिलाफ अवश्विास को छोड़कर कांग्रेस में ही पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी के विरूद्ध जरूर अवश्विास लेकर आएंगे। वे मंगलवार को फरीदाबाद में ग्रीवेंस कमेटी की बैठक के बाद पत्रकारों से रूबरू थे।

बैठक के बाद पत्रकारों से रूबरू होते हुए उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि प्रदेश के आगामी बजट में सरकार कई ऐतिहासिक कदम उठाएगी। उन्होंने कहा कि कोविड-19 महामारी के बावजूद हरियाणा का जीएसटी, आबकारी, खनन, राजस्व कलेक्शन में सकारात्मक प्रदर्शन रहा। उन्होंने कहा कि वैश्विक कोरोना महामारी के कारण राज्य के कई बड़े महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट्स पर असर रहा, जिन्हें अब आगामी वित्त वर्ष में टेकअप किया जाएगा। दुष्यंत ने कहा कि ग्लोबल सिटी प्रोजेक्ट, केएमपी (कुंडली-मानेसर-पलवल) एक्सप्रेस-वे के आस-पास पंचग्राम योजना आदि ऐसे बड़ी परियोजनाओं के लिए इस बजट के जरिए ऐतिहासिक कदम उठाए जाएंगे और इन योजनाओं से प्रदेशवासियों को लाभान्वित किया जाएगा।

आगामी रबी फसल की खरीद व उसकी भुगतान प्रक्रिया के बारे में दुष्यंत ने कहा कि हरियाणा में पहली बार सरकार छह फसलों की एमएसपी पर खरीद कर रही है, जिनमें गेहूं, सरसों, जौ, दाल, सूरजमुखी व चना शामिल है। उन्होंने कहा कि इसी माह सरसों और अप्रैल महीने से गेहूं फसल की खरीद शुरू हो जाएगी। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि किसानों की फसल खरीद के बाद उसकी भुगतान प्रक्रिया को भी बेहतर बनाया गया है। उन्होंने कहा कि जैसे ही आढ़ती द्वारा किसानों का जे-फॉर्म काटेगा, उसके 48 घंटे में किसानों की फसल की अदायगी सीधा उनके खाते में कर दी जाएगी।



Next Story