Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सड़क हादसा : व्यापारी के पूरे परिवार को एक साथ ले गई मौत, साले का भी उजड़ गया घर

सफीदों की पुरानी अनाज मंडी निवासी मनोज गर्ग मंगलवार को पत्नी बबीता, बेटे अभय और हेमंत के अलावा चालक राकेश के साथ इनोवा गाड़ी में वृंदावन गए थे। रास्ते में उन्होंने अपने साले के बेटे कन्नू और बेटी हिमाद्री को भी साथ ले लिया था।

सड़क हादसा : व्यापारी के पूरे परिवार को एक साथ ले गई मौत, साले का भी उजड़ गया घर
X

मनोज गर्ग, बबीता और उनके बेटे अभय व हेमंत के फाइल फोटो।

हरिभूमि न्यूज. जींद

वृंदावन दर्शन के लिए गए सफीदों के व्यापारी परिवार के चार सदस्यों समेत हुई सात लोगों की मौत से सफीदों में मातम पसर हुआ है। पुरानी अनाज मंडी सफीदों में मृतक परिवार को सांत्वना देने के लिए दिनभर लोगों का तांता लगा रहा। मृतकों में सफीदों का व्यापारी खुद, उसकी पत्नी, दो बेटे, चालक गांव जयपुर राकेश व व्यापारी के साले पानीपत निवासी के दो बच्चे शामिल हैं। हादसे की सूचना मिलते ही जींद और पानीपत से परिवार के लोग रवाना हो गए।

हर कोई हादसे से हैरान था। काबिलगौर है कि सफीदों निवासी व्यापारी बीती देर रात वृंदावन से दर्शन के बाद यमुना एक्सप्रेस वे के रास्ते नोएडा की ओर आ रहा था। एक्सप्रेस-वे पर टैंकर का टायर फटने से वह अनियंत्रित हो गया और इनोवा को सीधी टक्कर दे मारी। जिसमें इनोवा सवार सभी सात लोगों की मौत हो गई। सफीदों की पुरानी अनाज मंडी निवासी मनोज गर्ग (42) मंगलवार को पत्नी बबीता (40), बेटे अभय (18) और हेमंत (16) के अलावा चालक राकेश (28) के साथ इनोवा गाड़ी में सवार होकर वृंदावन में श्री बांके बिहारी मंदिर के दर्शन करने गए थे। रास्ते में उन्होंने समालखा की काठमंडी से अपने साले के बेटे कन्नू (10) और बेटी हिमाद्री (14) को भी साथ ले लिया। दर्शन करने के बाद देर रात जब वे वापस लौट रहे थे रास्ते में हादसा हो गया। जिसमें इनोवा सवार सभी सात लोगों की दर्दनाक मौत हो गई। व्यापारी मनोज गर्ग तीन भाइयों में सबसे छोटे थे।

मृतक मनोज गर्ग के बड़े भाई शिवचरण ने बताया कि उनका संयुक्त परिवार है। मंझला भाई सतीश हैं जबकि मनोज सबसे छोटा था। तीनों सफीदों में अरुणोदय फीड मिल नाम से पोल्ट्री फीड की फैक्ट्री चलाते है। मनोज अपनी पत्नी व दो बच्चों समेत मंगलवार को अल सुबह श्री बांकेबिहारी के दर्शन करने वृंदावन निकले थे। उनके साथ उनके साले की 14 वर्षीय बेटी हिमाद्री व दस वर्षीय बेटा कन्नू भी गया था। चालक गांव जयपुर निवासी राकेश था। शिवचरण ने बताया कि मनोज का बड़ा बेटा अभय बीए प्रथम वर्ष तथा छोटा बेटा हेमंत 12वीं कक्षा में पढ़ता था। हादसे से सफीदों इलाके में शोक की लहर है और पीड़ित परिवार के पास सांत्वना देने वाले लोगों का तांता लगा रहा।

Next Story