Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

तंत्र-मंत्र के चक्कर में महिला ने दी मासूम की बली

नई दिल्ली के बुध विहार थाना इलाके में एक पड़ोसी महिला ने बच्चे न होने पर तंत्र-मंत्र के चक्कर में एक मासूम बच्चे की बलि दे दी। इसके बाद महिला ने मासूम के शव ठिकाने लगाने के लिए बोरे में डालकर छत पर छोड़ दिया। मृतक बच्चे की पहचान साढ़े तीन वर्षीय पीयूष के तौर पर हुई है।

तंत्र-मंत्र के चक्कर में महिला ने दी मासूम की बली
X

मासूम की हत्या (प्रतीकात्मक फोटो)

नई दिल्ली के बुध विहार थाना इलाके में एक पड़ोसी महिला ने बच्चे न होने पर तंत्र-मंत्र के चक्कर में एक मासूम बच्चे की बलि दे दी। इसके बाद महिला ने मासूम के शव ठिकाने लगाने के लिए बोरे में डालकर छत पर छोड़ दिया। मृतक बच्चे की पहचान साढ़े तीन वर्षीय पीयूष के तौर पर हुई है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल की मोर्चरी में सुरक्षित रखवा दिया है। पुलिस ने मामले की गुत्थी को सुलझाते हुए आरोपी महिला को पकड़ लिया है। पकड़ी गई महिला का नाम नीलम गुप्ता (25) है। पुलिस आरोपी महिला से पूछताछ कर मामले की छानबीन कर रही है।

डीसीपी (रोहिणी) प्रणव तायल के मुताबिक गत शनिवार शाम को पुलिस को रिठाला गांव गली नंबर-18 में साढ़े तीन साल के पीयूष गुप्ता के लापता होने की सूचना मिली थी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर पीयूष के परिजनों से जांच के लिए पूछताछ की। पूछताछ के दौरान परिजनों ने बताया कि वह छत पर था। इसके बाद वह नहीं मिला। जांच के दौरान पुलिस ने सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली तो पुलिस को पता चला कि मासूम बिल्डिंग से बाहर नहीं निकला।

इसके बाद पुलिस मासूम को ढूंढते हुए पुलिस बिल्डिंग की छत पर पहुंची। जहां दीवार से सटा हुआ सफेद रंग का प्लास्टिक का बोरा पड़ा मिला। बोरा खोलकर देखा तो उसमें उसका शव पड़ा हुआ था। पीयूष के होंठ काले पड़े थे जबकि कान के पीछे से खून निकल रहा था। शव को बाबा साहेब अंबेडकर अस्पताल भेज दिया। पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू की। जांच के बाद पुलिस ने आरोपी महिला को पकड़ लिया।

आरोपी को सात साल से नहीं हुआ था बच्चा

पूछताछ के दौरान आरोपी महिला ने बताया कि वर्ष 2013 में उसकी शादी हुई थी। उसको कोई संतान नहीं है। संतान नहीं होने से वह काफी तनाव में रहती थी। करीब चार साल पहले उसे हरदोई के एक तांत्रिक ने कहा था कि यदि वह किसी बच्चे का बलि देगी तो उसे संतान की प्राप्ति हो सकती है। उसी की बात उसे बीते शनिवार को याद आ गई और पड़ोस में रहने वाले मासूम की गला घोंट कर हत्या कर दी।

तांत्रिक के कहने पर की हत्या

पुलिस को पता चला है कि महिला का कोई संतान नहीं है। उसे एक तांत्रिक ने बच्चे की बली देने के लिए कही थी। इसी वजह से आरोपी महिला ने वारदात को अंजाम दिया है। फिलहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और आगे की कार्रवाई कर रही है।

Next Story