Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

चेकपोस्ट से गायब सरकारी कर्मचारियों पर गिरेगी गाज, कलेक्टर ने दिए कड़े निर्देश

नारायणपुर कलेक्टर ने कहा कि क्वारंटीन सेंटर्स में मां के साथ रहने वाले छोटे बच्चों के टीकाकरण का भी विशेष ध्यान रखा जाये। पढ़िए पूरी खबर-

चेकपोस्ट से गायब सरकारी कर्मचारियों पर गिरेगी गाज, कलेक्टर ने दिए कड़े निर्देश
X
Symbolic Image

नारायणपुर। जिले की सीमा पर बनाये गए भरंडा चेक पोस्ट पर अधिकारी-कर्मचारियों की ड्यूटी पर नहीं पाये जाने की शिकायत को कलेक्टर अभिजीत सिंह ने गंभीरता से लेते हुए ऐसे अधिकारी-कर्मचारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि चेक पोस्ट, क्वारंटाइन सेन्टरों या अन्य स्थानों पर कोरोना संक्रमण की रोकथाम एवं नियंत्रण हेतु ड्यूटी लगायी गयी है। वहां अगर अधिकारी-कर्मचारी डयूटी पर अनुपस्थित रहते हैं, तो ऐसे अधिकारी-कर्मचारियों को कारण बताओ नोटिस जारी किया जाये।

उक्त निर्देश उन्होंने आज यहां आयोजित जिला स्तरीय कोर कमेटी की बैठक में दिए। बैठक में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जयंत वैष्णव, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व दिनेश कुमार नाग, डिप्टी कलेक्टर वैभव क्षेत्रज्ञ, धनंजय मरकाम, महिला बाल विकास अधिकारी रविकान्त ध्रुर्वे, जिला शिक्षा अधिकारी गिरधर मरकाम सहित अन्य सदस्य उपस्थित थे।

कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि क्वारंटीन सेंटर्स में मां के साथ रहने वाले छोटे बच्चों के टीकाकरण का भी विशेष ध्यान रखा जाये। आवश्यक हो तो मां से पूछ कर उनका टीकाकरण भी किया जाये। उन्होंने नारायणपुर जिले में अन्य राज्य/जिले से वापस आने वाले श्रमिकों/सुरक्षाबलों/व्यक्तियों के गु्रप में से प्राथमिकता के आधार पर लक्षण पाये जाने वाले व्यक्ति, अधिक उम्र वाले व्यक्ति एवं ग्रुप में से रेंडम क्रम में व्यक्तियों के आरटी-पीसीआर टेस्ट कराये जाने के निर्देश दिए।

कलेक्टर ने प्रतिदिन 20 सेम्पल टेस्ट कराये जाने के निर्देश स्वास्थ्य अधिकारियों को दिए। उन्होंने कहा कि जिले से जो श्रमिक या अन्य व्यक्ति अपने घर जाना चाहते है उनकी विशेष व्यवस्था की जाये।

कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि पेट्रोल पम्प, गैस एजेंसी एवं मेडिकल दुकान सामान्य दिवस की भांति खुली रहेगी। इसके अलावा प्रतिबंध से छूट दी गई समस्त दुकानें/प्रतिष्ठान/बाजार के संचालन की अनुमति प्रातः 5.00 बजे से रात्रि 9.00 बजे तक खुली रहने की बात कही। उन्होंने कहा कि दिवस प्रतिबद्धता नहीं होगी, किन्तु स्थानीय स्तर पर पूर्व की भांति साप्ताहिक अवकाश स्वप्रेरणा से किया जा सकता है।

Next Story