Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

'सिफारिश' का सिस्टम बंद, शिक्षा विभाग में अब ऑनलाइन होंगे तबादले, योग्यता एकमात्र पैमाना

स्कूल शिक्षा विभाग के अंतर्गत होने वाले तबादले अब पूरी तरह से पारदर्शी होंगे। किसी तरह की कोई भी सिफारिश या नेता-अफसरों से संपर्क अब काम नहीं आएंगे। विश्वसनीय सूत्रों से प्राप्त जानकारी के मुताबिक ट्रांसफर सिस्टम को ऑनलाइन किया जा रहा है। इस ऑनलाइन सिस्टम पर काम शुरू कर दिया गया है।

सिफारिश का सिस्टम बंद, शिक्षा विभाग में अब ऑनलाइन होंगे तबादले, योग्यता एकमात्र पैमाना
X

रायपुर. स्कूल शिक्षा विभाग के अंतर्गत होने वाले तबादले अब पूरी तरह से पारदर्शी होंगे। किसी तरह की कोई भी सिफारिश या नेता-अफसरों से संपर्क अब काम नहीं आएंगे। विश्वसनीय सूत्रों से प्राप्त जानकारी के मुताबिक ट्रांसफर सिस्टम को ऑनलाइन किया जा रहा है। इस ऑनलाइन सिस्टम पर काम शुरू कर दिया गया है।

जल्द ही इसे लागू कर दिया जाएगा। स्कूल शिक्षा विभाग प्रदेश का पहला ऐसा विभाग होगा, जो अपनी ट्रांसफर प्रक्रिया भी ऑनलाइन कर रहा है। अभी तक तबादला चाहने वाले शिक्षक, प्राचार्य अथवा शिक्षा विभाग से जुड़े अधिकारी-कर्मचारी द्वारा लिखित रूप में विभाग को आवेदन देना पड़ता है। रिक्त स्थान, आवेदन संख्या तथा अन्य चीजों को देखते हुए विभाग तबादला आदेश जारी करता है।

ऐसे होगा चयन

यदि किसी जिले में एक पद रिक्त हैं और उसके लिए दो आवेदन आए हैं तो मेरिट बेस पर अधिक योग्य कैंडिडेट को वहां तबादला दिया जाएगा। मेरिट बेस किस आधार पर तय किया जाएगा, इसकी रूपरेखा बनाई जा रही है। यह भी संबंधित पोर्टल पर ऑनलाइन उपलब्ध रहेगी। सभी चीजें ऑनलाइन होने के बाद तबादले के लिए थोक में आने वाली सिफारिशें भी बंद हो जाएंगी और योग्य व्यक्ति को उसकी मनचाही जगह में पोस्टिंग मिल सकेगी।

ऐसा होगा नया सिस्टम

किस जिले में कितनी संख्या में कौन से पद खाली हैं, इसकी जानकारी ऑनलाइन पोर्टल में अपलोड कर जाएगी। इसके आधार पर जो भी अधिकारी-कर्मचारी वहां जाने का इच्छुक है, वह ऑनलाइन आवेदन कर सकेगा। इसके लिए समय भी निर्धारित किया जाएगा। प्राप्त आवेदनों पर विचार करने के बाद सबसे योग्य कैंडिडेट को वह जगह आवंटित कर दी जाएगी, जिसके लिए उसके द्वारा आवेदन किया गया है। किस आधार पर चयन किया गया है, यह जानकारी भी ऑनलाइन पोर्टल में अपलोड कर दी जाएगी, ताकि पूरी तरह से पारदर्शिता बनी रहे।

कन्फर्म नहीं

अभी कुछ भी कन्फर्म नहीं कह सकते हैं। हर चीज की संभावना बनी रहती है।

- डॉ. आलोक शुक्ला, सचिव, स्कूल शिक्षा विभाग

Next Story