Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

शहाबुद्दीन का खास बाबर गैंगवॉर में मारा गया, पुलिस को नहीं मिल रहा कोई चश्मदीद गवाह

बिहार के सिवान से बड़ी खबर सामने आई है। यहां गैंगवॉर के दौरान गैंगस्टर बाबर मियां को मौत के घाट उतार दिया गया। बाबर मियां कभी दिवंगत पूर्व सांसद एवं बाहुबली शहाबुद्दीन का करीबी रहा था। फिलहाल पुलिस को हत्याकांड में कोई सुराग हाथ नहीं लग रहा है।

siwan shahabuddin aide babar ali killed in daylight gang war in siwan bihar crime news in hindi
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहार (Bihar) के सिवान से हत्या (Murder) की सनसनीखेज वारदात सामने आई है। यहां दिवंगत राजद नेता एवं बाहुबली शहाबुद्दीन (Shahabuddin) के खास बाबर मियां को आपसी (Babur Mian Murder) रंजिश में दुश्मन गैंग ने मार गिराया है। वहीं पुलिस उसकी हत्या मामले की जांच पड़ताल करने में जुटी है। लेकिन पुलिस के अभी इस सनसनीखेज हत्याकांड में हाथ खाली हैं।

सिवान में शनिवार को जब दिनदहाड़े गोलियों की तड़तड़ाहट (Crack of bullets in broad daylight) हुई तो पहले तो मौके पर भगदड़ मच गई और उसके बाद सन्नाटा पसरा तो देखा कि गोलियों से छलनी बाबर मियां का शव पड़ा है। कुख्यात गैंगस्टर बाबर मियां (Notorious gangster Babar Mian) को शनिवार को जान से मार दिया गया।लेकिन पुलिस (Police) को मौका ए वारदात से ना तो कोई चश्मदीद गवाह (eyewitness account) मिल रहा है और ना ही कोई सुराग हाथ लग रहा है। जानकारी के अनुसार अब पुलिस इस हत्याकांड के खुलासे के लिए कॉल डिटेल्स (Call details) खंगाल रही है।

सिवान के सराय थाना क्षेत्र में शनिवार को सरेआम सड़क पर गोली मारकर बाबर अली उर्फ बाबर मियां को मार डाला गया। इसके बाद से ही पूरे इलाके में सनसनी व्याप्त है। बताया जा रहा है कि बाबर गत 10 वर्षों से जमीन और प्रॉपर्टी के कारोबार में लगा हुआ था। जो कुख्यात अपराधी था। बाबर के खिलाफ कई आपराधिक मामले चल रहे थे।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार बाबर मियां शनिवार को अपने किसी काम से सराय थाना क्षेत्र में बाइपास रोड से गुजर रहा था। उसी वक्त बाइक सवार कुछ लोगों ने बाबर को जरती माई मंदिर के पास घेर लिया। देखते ही देखते मौके पर ताबड़तोड़ फायरिंग होने लगी। इसी गोलीबारी में बाबर की जान गई।

अभी तक पुलिस के हाथ हैं खाली

वहीं पुलिस को दिनदहाड़े हुई इस हत्या की वारदात में कोई चश्मदीद गवाह नहीं मिला है। पुलिस को बाबर की बाइक घटनास्थल से करीब 10 मीटर दूर बरामद हुई। पुलिस को शक है कि बाबर को पास से गोली मारी गई। पर पुलिस को घटनास्थल से कोई खाली कारतूस तक नहीं मिला है। बाबर का मोबाइल फोन मौके से गायब था। पुलिस ने परिजनों से बाबर का मोबाइल नंबर पता किया है और कॉल डिटेल रिकॉर्ड खंगालने में जुट गई है।

पुलिस जानकारी के मुताबिक बाबर पर सिवान के कई थानों में करीब दो दर्जन आपराधिक मामले दर्ज हैं। रिकॉर्ड्स के अनुसार बाबर पर केवल मुफस्सिल थाने में ही 19 केस दर्ज हैं। बीते महीने से पुलिस बाबर को एक अपहरण के मामले में खोज रही थी। दूसरी तरफ अगवा किए गए शख्स का शव या कोई सुराग पुलिस को हाथ नहीं लगा है।

जानकारी के मुताबिक बाबर एक समय में सिवान के दिवंगत राजद नेता एवं बाहुबली शहाबुद्दीन का करीबी रहा था। पुलिस भी कह चुकी है कि बाबर ने एक मौके पर शहाबुद्दीन के लिए भी काम किया था।

Next Story