Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

खजुराहो में मजदूर परिवारों को भूखा रखा गया, गाली-गलौज का भी आरोप

पुलिस, एम्बुलेंस ड्राईवर के साथ मजदूर परिवार की महिलाओं के साथ कहा-सुनी भी हुई। पढ़िए पूरी खबर-

खजुराहो में मजदूर परिवारों को भूखा रखा गया, गाली-गलौज का भी आरोप

खजुराहो। नगरीय प्रशासन और अस्पताल की लचर व्यवस्था के कारण हरियाणा से ट्रेक्टर ट्रॉली से सफर करके मजदूरों के तीन परिवार थर्मल स्कैनिंग के लिए सुबह से दोपहर तक भूखे प्यासे इंतज़ार करते रहे। पीड़ित मजदूरों ने उनके साथ गाली-गलौज और खाने की व्यवस्था न किये जाने का भी आरोप लगाया है। सुबह से दोपहर तक जब जांच और खाने की व्यवस्था न होने पर मजदूर परिवार वापस लौट रहा था।

बाद में नगर परिषद के कर्मचारी और पुलिस की सहायता से सभी मजदूरों को रास्ते से लौटाया गया और covid केयर सेन्टर में भर्ती किया गया।

राजनगर तहसील के कुछ ग्रामीण परिवार ट्रेक्टर ट्राली पर बैठकर 1200 किलोमीटर का सफ़र करके हरियाणा जिंद शहर से आज सुबह अपने गृहग्राम पहुँचने से पहले थर्मल स्कैनिंग कराने के लिए खजुराहो स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे, लेकिन सुबह से दोपहर तक न तो थर्मल स्कैनिंग किसी भी मजदूर की हो पाई और न ही किसी मजदूर को खाना मिला।

इतना ही नहीं, मजदूर परिवार के सदस्यों ने अस्पताल में उनके साथ गाली-गलॉज किये जाने का भी आरोप लगाया है। जब दोपहर तक मजदूरों की थर्मल स्कैनिंग नहीं की गयी, तो सभी मजदूर परिवार अपने बच्चों के साथ ट्रेक्टर ट्राली पर बैठकर लौटने लगे।

बाद में अस्पताल प्रबंधन ने एम्बुलेंस और पुलिसकर्मी को भेज कर मजदूर परिवार के सदस्यों को रास्ते से लौटाया। वहां भी पुलिस, एम्बुलेंस ड्राईवर के साथ मजदूर परिवार की महिलाओं के साथ कहा-सुनी हुई। बाद में समझाइश के बाद सभी को कोविड केयर सेंटर राजनगर भेजा गया।

अस्पताल प्रबंधन ने मजदूरों के साथ गाली- गलौज किये जाने की जानकारी न होने की बात कही है।

Next Story
Top